Breaking News
.

नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लोकर सहारनपुर में भी जुमे की नमाज के बाद हंगामा, देवबंद में पुलिस ने किया लाठीचार्ज ….

सहारनपुर। भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने पर गिरफ्तारी को लेकर सहारनपुर और देवबंद में मुस्लिम समुदाय ने जमकर हंगामा किया। जुमे की नमाज के बाद सहारनपुर की सड़कों पर उतरे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने 15 से 20 मिनट तक मस्जिद के बाहर जमकर नारेबाजी की। वहीं देवबंद में उपद्रवियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया है।

सहारनपुर की जामा मस्जिद में 1:00 बजे जुमे की नमाज शुरू हुई। इसके बाद नमाज खत्म कर जब नमाजी मस्जिद से बाहर निकले तब उन्होंने नारेबाजी शुरू कर दी। मस्जिद के आसपास भारी पुलिस फोर्स तैनात थी। इसके बाद भी करीब करीब 15-20 मिनट तक मुस्लिम समुदाय के लोागें ने हंगामा किया। हाथ मे तिरंगा लेकर पहुंचे युवाओं ने भी प्रदर्शन किया। इसके बाद अधिकारियों ने सभी को समझाने का प्रयास किया, प्रदर्शन करने के बाद सभी वापस अपने घरों को निकल गए। हालांकि, मामला अभी पूरी तरह से शांत है। एसपी सिटी ने पुलिसबल के साथ मुस्तैद रहे।

एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद काफी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे, लेकिन कुछ देर बाद सभी वापस अपने गंतव्य को चले गए थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश भर में संवेदनशील इलाकों में पुलिस जगह-जगह लगातार भ्रमण कर रही है। जुमे की नमाज को देखते हुए व्यापक पुलिस प्रबंध कराए गए थे। 130 कंपनी पुलिस फोर्स की लगाई गई थीं, साथ ही मजिस्ट्रेट भी निरीक्षण कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही है कि कहीं कोई माहौल खराब करने की कोशिश न कर सके। उन्होंने बताया कि धर्मगुरुओं की तरफ से भी पुलिस प्रशासन को पूरा सहयोग मिला है। धर्मगुरुओं ने लोगों ने शांतिपूर्ण तरीके से लोगों से नमाज संपन्न करने की अपील की थी।

देवबंद के मुस्लिम बहुल इलाकों के सभी बाजार बंद रहे। रशीदिया मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद अचानक  कुछ लोग सड़कों पर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन करने लगे। इसके बाद पुलिस के समझाने बुझाने पर न मानने के चलते पुलिस ने लाठीचार्ज किया। पुलिस द्वारा लाठीचार्ज करने पर सभी तितर-बितर हो गए। इस दौरान माहौल बिगाड़ने को लेकर 6 से 7 उपद्रवियों को पुलिस ने हिरासत में लिया। इस मौके पर एसडीएम दीपक कुमार सहित अधिकारियों ने सामाजिक लोगों के युवकों को समझाने बुझाने की कोशिश की।

इस दौरान पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया। बावजूद इसके समुदाय विशेष के लोग लगातार नारेबाजी करते रहे। एसपी देहात सूरज राय ने बताया कि सभी को संवैधानिक रूप से प्रदर्शन कर अपनी बात कहने का अधिकार है। जो असामाजिक तत्व माहौल को बिगाड़ने की कोशिश करेंगे उनसे सख्ती से निपटा जाएगा।

error: Content is protected !!