Breaking News
.

दलित सांसद नवनीत राणा का उद्धव ठाकरे सरकार पर आए संकट पर तंज- 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ किया …

मुंबई। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार के संकट में आने पर दलित सांसद नवनीत राणा ने तंज कसा है। सीएम उद्धव ठाकरे के घर के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ने का ऐलान कर पर वह विवादों में घिर गई थीं और उन्हें पति रवि राणा संग जेल भी जाना पड़ गया था। अब दलित सांसद नवनीत राणा ने उद्धव ठाकरे सरकार के संकट में आने पर तंज कसते हुए कहा कि मैंने 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ किया है ताकि महाराष्ट्र को संकट से बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि मुझे तो संकटमोचक से ही उम्मीद है कि वह राज्य को इस संकट से बचाएंगे। यही नहीं उन्होंने एक बार फिर से उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार तो अपने ही कर्मों से गिर जाएगी।

नवनीत राणा के पति रवि राणा भी विधायक हैं और अब नई सरकार के गठन की स्थिति में उनका रोल भी अहम होगा। नवनीत राणा ने सरकार पर आए संकट को लेकर कहा कि राज्यसभा और विधान परिषद में यदि इस तरह से वोटिंग होती है तो फिर महाविकास अघाड़ी में शिवसेना के विधायक खुश नहीं हैं। उन्होंने ही भाजपा के कैंडिडेट को विधान परिषद चुनाव में वोट किया और जीता दिया। हम ढाई साल से महाराष्ट्र को डूबते देख रहे हैं। महाराष्ट्र का संकट जल्द खत्म होना चाहिए। विधायक राज्य का नुकसान होता नहीं देख सकते हैं और जल्दी ही इस संकट को दूर करना चाहिए। शिवसेना के अंदरुनी मतभेदों से यह संकट खड़ा हो गया है। उन्होंने कहा कि अपने कर्मों से ही उद्धव ठाकरे सरकार गिर जाएगी।

नवनीत राणा ने कहा कि इस सरकार का जनता से संपर्क टूट गया है। गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार के सीनियर मंत्री एकनाथ शिंदे ने शिवसेना नेतृत्व से बगावत की है। वह तीन मंत्रियों और करीब 26 विधायकों के साथ सूरत के एक होटल में ठहरे हुए हैं। कहा जा रहा है कि वह शिवसेना में किनारे लगाए जाने से नाराज थे। एकनाथ शिंदे की नाराजगी ने शिवसेना को बड़ा झटका दिया है और उद्धव ठाकरे ने मुंबई में आपातकालीन बैठक बुलाई है। इस बीच शरद पवार ने सरकार गिरने की स्थिति में विपक्ष में बैठने के लिए तैयार रहने की बात कही है।

मीडिया से दिल्ली में बात करते हुए शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार में जो हो रहा है, वह बीते ढाई साल में तीसरी घटना है। उद्धव ठाकरे सरकार के बनने से पहले भी हमारे कुछ विधायकों को हरियाणा में रखा गया था। लेकिन उन्होंने निकलकर हमारी सरकार को बनवाया और ढाई साल से यह अच्छे से चल रही है। एनसीपी के दोनों उम्मीदवारों ने एमएलसी चुनाव में जीत गए हैं। हमारा एक भी वोट यहां से वहां नहीं गया है। उन्होंने भाजपा को एमएलसी चुनाव में 134 वोट मिलने पर शरद पवार ने कहा कि क्रॉस वोटिंग ऐसे चुनाव में होती रहती है। ऐसे मैंने बीते 50 सालों में कई बार देखा है।

error: Content is protected !!