Breaking News
.

एशियन लिटरेरी सोसाइटी को फेसबुक एक्सेलेरेटर 2021 के प्रोग्राम में चुना गया …

एशियन लिटरेरी सोसाइटी को फेसबुक ने अपने कम्युनिटी एक्सेलेरेटर प्रोग्राम के लिए चुना है। एशियन लिटरेरी सोसाइटी 13,000 आवेदकों में से भारत के 13 चयनित समुदायों में एक है।

एशियन लिटरेरी सोसाइटी की शुरुआत 2017 में एशियाई कला, संस्कृति और साहित्य को पूरी दुनिया में बढ़ावा देने के लिए की गई थी। 100 से अधिक देशों के 16,000 से अधिक सदस्यों की इस संस्था ने लेखकों और कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक विश्व-स्तरीय मंच प्रदान किया है। साथ ही इस संस्था ने दिव्यांगों के लिए भी कई कार्यक्रम भी आयोजित किए हैं।

एशियन लिटरेरी सोसाइटी के संस्थापक, मनोज कृष्णन ने एक बयान में कहा, “इंडिया कॉहोर्ट के लिए चयनित एकमात्र साहित्यिक और कला क्षेत्र की संस्था होना वास्तव में हमारे लिए बेहद गर्व की बात है। फेसबुक एक्सेलेरेटर प्रोग्राम के माध्यम से यह अंतरराष्ट्रीय मान्यता हमें पूरे एशिया में और अधिक लेखकों और कलाकारों तक पहुँचने में मदद करेगी जो अपनी लेखन एवं कला को हमारे विश्व स्तरीय मंच के जरिये जन-जन तक पँहुचा सकते हैं।

फेसबुक एक्सेलेरेटर प्रोग्राम में चयनित एशियन लिटरेरी सोसाइटी $50,000 तक का अनुदान प्राप्त करेगी। फेसबुक द्वारा अर्जेंटीना, कोलंबिया, चिली, पेरू, मैक्सिको, ब्राजील, संयुक्त राज्य अमेरिका, फिलीपींस, इंडोनेशिया, थाईलैंड, सिंगापुर, मलेशिया, यूनाइटेड किंगडम, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, दक्षिण अफ्रीका, केन्या, नाइजीरिया, मिस्र, मोरक्को और भारत जैसे कई देशों से कुल 131 प्रतिभागियों को चुना गया है।

कम्युनिटी एक्सेलेरेटर फेसबुक के वैश्विक कम्युनिटी लीडरशिप प्रोग्राम का हिस्सा है जिसमे चुने गए सदस्य सामुदायिक परियोजनाओं हेतु नेतृत्व कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। एशियन लिटरेरी सोसाइटी को फेसबुक ने अपने कम्युनिटी एक्सेलेरेटर प्रोग्राम के लिए चुना है। एशियन लिटरेरी सोसाइटी 13,000 आवेदकों में से भारत के 13 चयनित समुदायों में एक है।

एशियन लिटरेरी सोसाइटी की शुरुआत 2017 में एशियाई कला, संस्कृति और साहित्य को पूरी दुनिया में बढ़ावा देने के लिए की गई थी। 100 से अधिक देशों के 16,000 से अधिक सदस्यों की इस संस्था ने लेखकों और कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए एक विश्व-स्तरीय मंच प्रदान किया है। साथ ही इस संस्था ने दिव्यांगों के लिए भी कई कार्यक्रम भी आयोजित किए हैं।

एशियन लिटरेरी सोसाइटी के संस्थापक, मनोज कृष्णन ने एक बयान में कहा, “इंडिया कॉहोर्ट के लिए चयनित एकमात्र साहित्यिक और कला क्षेत्र की संस्था होना वास्तव में हमारे लिए बेहद गर्व की बात है। फेसबुक एक्सेलेरेटर प्रोग्राम के माध्यम से यह अंतरराष्ट्रीय मान्यता हमें पूरे एशिया में और अधिक लेखकों और कलाकारों तक पहुँचने में मदद करेगी जो अपनी लेखन एवं कला को हमारे विश्व स्तरीय मंच के जरिये जन-जन तक पँहुचा सकते हैं।

फेसबुक एक्सेलेरेटर प्रोग्राम में चयनित एशियन लिटरेरी सोसाइटी $50,000 तक का अनुदान प्राप्त करेगी। फेसबुक द्वारा अर्जेंटीना, कोलंबिया, चिली, पेरू, मैक्सिको, ब्राजील, संयुक्त राज्य अमेरिका, फिलीपींस, इंडोनेशिया, थाईलैंड, सिंगापुर, मलेशिया, यूनाइटेड किंगडम, जर्मनी, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, दक्षिण अफ्रीका, केन्या, नाइजीरिया, मिस्र, मोरक्को और भारत जैसे कई देशों से कुल 131 प्रतिभागियों को चुना गया है। कम्युनिटी एक्सेलेरेटर फेसबुक के वैश्विक कम्युनिटी लीडरशिप प्रोग्राम का हिस्सा है जिसमें चुने गए सदस्य सामुदायिक परियोजनाओं हेतु नेतृत्व कौशल प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।

error: Content is protected !!