मध्य प्रदेश

प्रवासी भारतीय दिवस का इंदौर में आयोजन प्रदेश के लिए असाधारण अवसर होगा : सीएम शिवराज, 8 से 10 जनवरी तक होंगे कार्यक्रम ..

भोपाल। एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रवासी भारतीय दिवस का इंदौर में आयोजन प्रदेश के लिए असाधारण अवसर है। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आगमन होगा। हम सबको इस कार्यक्रम की बेहतर तैयारी करना चाहिए। कार्यक्रम रोचक बनाने की कोशिश करें। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में मध्यप्रदेश की विशेषताओं पर केन्द्रित प्रस्तुतिकरण जरूर हो। मध्यप्रदेश को यह सुनहरा मौका मिला है। चौहान अपने निवास पर 8 से 10, जनवरी 2023 को इंदौर में होने वाले प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे।

सीएम चौहान ने कहा कि पहले दिन 8 जनवरी को यूथ प्रवासी भारतीय दिवस मनाया जाएगा। अगले दिन 9 जनवरी को 17वीं प्रवासी भारतीय दिवस कन्वेंशन-2023 का शुभारंभ होगा और 10 जनवरी को 17वीं प्रवासी भारतीय दिवस कन्वेंशन का समापन होगा। इसमें राष्ट्रपति की सहभागिता होगी। चौहान ने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रम, इवेंट मैनेजमेंट और डिजिटल एक्जीविशन सहित अन्य व्यवस्थाएँ अच्छे ढंग से पूरी की जाएँ। कार्यक्रम में आने वाले प्रतिनिधियों को बेहतर सुविधाएँ मिलें। प्रदेश की छवि पूरी दुनिया में बनाने के प्रयास हो।

सीएम चौहान ने कहा कि कार्यक्रम में आने वाले प्रतिनिधि प्रदेश की प्रशंसा करते हुए वापस जाएँ। इसके लिए भरपूर प्रयास हों। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाए। कार्यक्रम के लिए स्थापित कॉल सेंटर पर बात करने के बाद मध्यप्रदेश आने के लिए लोग लालायित हों। केन्द्र सरकार के निर्देशों का पालन भी सुनिश्चित किया जाए। चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की विशेषताओं पर केन्द्रित सांस्कृतिक कार्यक्रमों से लोग आनंदित हों। उद्योग प्रदर्शनी बेहतर हो। प्रचार-प्रसार के लिए इंटर नेशनल एयरपोर्ट पर होर्डिंग लगाने और विज्ञापन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रचार हो। चौहान ने कहा कि इंदौर की साफ-सफाई की चर्चा दुनिया भर में है। उसी के अनुरूप स्वच्छता का भी ध्यान रखा जाए। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य एवं प्रवासी भारतीय विभाग मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव संस्कृति एवं पर्यटन शिव शेखर शुक्ला, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी उपस्थित थे।

बताया गया कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 11-12 जनवरी 2023 को होगी। इसमें 9 सेक्टरों पर केन्द्रित 14 सेशन होंगे, जिसमें उद्योगपतियों से सीधा संवाद भी होगा। सीएम चौहान ने कहा कि इसके लिए आमंत्रण भेजना शुरू कर दिए जाएँ। समिट में 17 देशों को आमंत्रित किया गया है। एमपीआईडीसी के एमडी मनीष सिंह ने तैयारियों की जानकारी दी। सीएम चौहान ने कहा कि एमपी स्टार्ट अप इकोस्टिम को तेजी से आगे बढ़ाया जाए। समापन कार्यक्रम में केन्द्रीय मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण और पीयूष गोयल शामिल होंगे। प्रदेश के उत्पादों की मार्केटिंग में कोई कमी नहीं रहे। कार्यक्रम के पहले वर्चुअल इन्वेटर रोड-शो भी किया जाए।

शिवराज सिंह 24 नवम्बर को बेंगलुरू में उद्योगपतियों से वन-टू-वन मीटिंग करेंगे। कार्यक्रम में इंटरेक्टिव सेशन होगा, जिसमें मध्यप्रदेश में पूँजी निवेश की संभावनाओं पर चर्चा होगी। चौहान ने कार्यक्रम की बेहतर तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से कहा कि वे अपनी क्षमताओं का पूरा उपयोग कर कार्यक्रम की तैयारियां सुनिश्चित करें।

Related Articles

Back to top button