Breaking News

नरेंद्र मोदी सरकार ने किया मोबाइल मैन्युफैक्चिंग में 9 लाख नौकरियां देने का वादा, अब तक इतनी मिलीं …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कोविड-19 के गंभीर हालातों के बीच मोबाइल फोन और कंपोनेंट्स के लिए अप्रैल में घोषित प्रोडक्शन लिंक्ड इनसेंटिव स्कीम ने 35,000 करोड़ रुपये का उत्पादन दिया, 22,500 लोगों को रोजगार दिया और लगभग 1,300 इनवेस्टर्स लाए।

उन्होंने कहा कि हमें विश्वास है कि 10 लाख करोड़ रुपये का उत्पादन होगा और अगले 5 वर्षों में PLI योजना के तहत लगभग 8 लाख -9 लाख प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार बनेंगे । इस योजना के जरिए हमारा भारत में वैश्विक चैंपियन लाने और भारतीय निर्माताओं को राष्ट्रीय चैंपियन बनाने पर फोकस है।

उन्होंने कहा कि देश में इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग का एनुअल ग्रोथ रेट (CAGR) 23 प्रतिशत है। उन्होंने आगे कहा कि कैबिनेट ने देश में हाई वेल्यु प्रोडक्ट्स के उत्पादन को बढ़ावा देने और एक्सपोर्ट में मूल्यवर्धन बढ़ाने के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 से 2028-29 की अवधि के लिए फार्मास्यूटिकल्स को पीएलआई योजना को मंजूरी दी।

error: Content is protected !!