देश

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले विवादों में आ गए, जपा ने बताया नवाबी मानसिकता, पटोले ने दी सफाई

महाराष्ट्र
महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले विवादों में आ गए हैं। दरअसल सोशल मीडिया पर उनका एक विडियो वायरल हो रहा है जिसमें पटोले पार्टी कार्यकर्तोओं से पैर धुलवाते नजर आ रहे हैं। भाजपा ने इस विडियो को लेकर कांग्रेस के ऊपर निशाना साधते हुए पूछा कि आखिर यह नवाबी मानसिकता नहीं तो और क्या है।
यह घटना सोमवार को हुई जब पटोले अकोला जिले के वाडेगांव में एक समारोह में गए हुए थे। यहां पर उन्होंने संत गजानन महाराज के दर्शन किए, दर्शन को जाते समय पटोले को कीचड़ से चलना पड़ा। दर्शन करके वापस आते समय एक कार्यकर्ता  कार में बैठे पटोले के पैर धोते हुए नजर आया। जल्दी इस घटना का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

भाजपा की मुंबई ईकाई के एक्स हैंडल से यह विडियो पोस्ट करते हुए लिखा गया कि यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज के समय में भी कांग्रेस के नेता लगातार पार्टी कार्यकर्ताओं को बेइज्जत करते हैं। यह शर्म की बात है कि नाना पटोले ने अपने कार्यकर्ता से अपने पैर धुलवाए, क्या यही कांग्रेस की संस्कृति है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने इस घटना को कांग्रेस की 'नवाबी शहजादा' वाली मानसिकता बताया और कहा कि कांग्रेस अपने कार्यकर्ताओं को गुलामों की तरह प्रयोग करती है। सोचिए कि आज जब यह सत्ता में नहीं है, तब जनता के साथ इस तरीके से पेश आते हैं अगर यह सत्ता में आ गए तो क्या-क्या करेंगे। शहजाद ने कहा कि इस घटना पर कांग्रेस पार्टी और नाना पटोले को माफी मांगनी चाहिए।

इस घटना पर सफाई देते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि मैं कल की घटना को लेकर कुछ भी छिपा नहीं रहा हूं, वह (कार्यकर्ता) केवल मेरे पैरों पर पानी डाल रहा था। सरकार ने एक योजना चलाई है, हर घर में नल, हर घर में जल, इस कारण वहां कोई भी नल बाहर नहीं था, नहीं तो मैं उसी नल के पानी से अपने पैर धोता।

 

Back to top button