मध्य प्रदेश

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट: देश में आईटी का अगला डेस्टिनेशन इंदौर होगा – शिवराज सिंह

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने की उद्योगपतियों से वन-टू-वन चर्चा, सीएम बोले- स्वच्छता और कार्य के बेहतर वातावरण को हमने ब्रांड के रूप में स्थापित किया

इंदौर/भोपाल।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि देश में आईटी का अगला डेस्टिनेशन इंदौर होगा। स्वच्छता और कार्य के बेहतर वातावरण को हमने ब्रांड के रूप में स्थापित किया है। उद्योग और निवेश की सुगम प्रक्रियाएँ, सहयोगी और उत्साहवर्धक व्यवहार तथा बेहतर कनेक्टिविटी एवं पर्याप्त इन्फ्रा-स्ट्रक्चर सभी क्षेत्रों में निवेश के लिए प्रदेश को उपयुक्त बनाता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट से पहले उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन चर्चा में यह बात कही। मुख्यमंत्री श्री चौहान से डालमिया भारत समूह के पुनीत डालमिया, गोदरेज इण्डस्ट्री के नादिर गोदरेज, अडानी एग्रो ऑयल एवं गैस के प्रणव अडानी, टाटा इंटरनेशनल के नोएल टाटा, आईटीसी ग्रुप के संजीव पुरी, एक्ससेंचर की रेखा मेनन और रिलायंस इंडस्ट्रीज के निखिल आर. मेसवानी ने ब्रिलिंयट कन्वेंशन सेंटर में भेंट की। मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और प्रमुख सचिव औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मनीष सिंह उपस्थित थे।

सीएम ने बताई मध्यप्रदेश की खासियत: बोले- मैं सीईओ के रूप में सदैव उपलब्ध हूं

सीएम शिवराज सिंह ने कहा- मध्य प्रदेश के सीईओ के रूप में सदैव उपलब्ध हूं। प्रति सोमवार उद्योगपतियों से भेंट के लिये समय तय किया गया है। मध्य प्रदेश में उद्योगों के लिए बनाये गये लैंड बैंक में लगभग 2 लाख एकड़ भूमि की उपलब्धता है। प्रदेश में अनेक खनिज हैं। जहाँ तक ऊर्जा उत्पादन की बात है, 25 हजार मेगावाट से अधिक बिजली का उत्पादन हो रहा है। दिल्ली की मेट्रो रेल भी मध्य प्रदेश की बिजली के सहयोग से चलती है।

सीएम ने उद्योगों को दिलाया भरोसा

सीएम ने उद्योगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि प्रदेश में ऑटोमोबाइल क्षेत्र, कौशल विकास, सूचना प्रौद्योगिकी, रक्षा क्षेत्र, नवकरणीय ऊर्जा में लगातार कार्य किया गया है। रेडीमेड उद्योग में मध्यप्रदेश चौथे स्थान पर है, शीघ्र ही पहले स्थान पर आने का लक्ष्य है। हमारी बहने और बेटियाँ परिश्रमी हैं। वे तीन शिफ्ट में भी कार्य करती हैं। उन्होंने कहा कि अब ओंकारेश्वर में बांधों की जलराशि की सतह पर तैरते हुए ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने का कार्य प्रारंभ हुआ है। उद्योगों की आवश्यकता के अनुसार कस्टमाइज पैकेज देने का कार्य भी राज्य सरकार करेगी।

सुरक्षित और सरल व्यवस्था

शिवराज सिंह ने कहा कि प्रदेश से दस्युओं का आतंक समाप्त किया गया है। सुशासन के क्षेत्र में मध्य प्रदेश देश में अग्रणी है। ब्यूरोक्रेसी सहयोगी है। उद्योग लगाने जो भी आयेंगे उन्हें मंत्रीगण भी सहयोग करेंगे। मध्य प्रदेश में 11 जलवायु क्षेत्र हैं। प्रदेश देश की खाद्य राजधानी के रूप में उभरा है। पर्यटन के क्षेत्र में प्रदेश में अनेक संभावनाओं को हम देख रहे हैं। फिर चाहे वाइल्ड लाइफ टूरिज्म, हेरिटेज टूरिज्म हो या धार्मिक पर्यटन हो।

वन्य पर्यटन में बेस्ट

मध्य प्रदेश के अनेक पर्यटन-स्थलों की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कूनों पालपुर में चीतों को बसाने का कार्य सफल हुआ है। फरवरी माह से पर्यटक इन्हें देख सकेंगे। मध्य प्रदेश चीता राज्य बनने के पहले टाइगर, लेपर्ड और क्रोकोडाइल राज्य भी बन चुका है। उज्जैन में श्री महाकाल महालोक और शिव सृष्टि के दर्शन के लिये पर्यटकों की संख्या निरंतर बढ़ रही है। समिट में आये अतिथि उज्जैन का भ्रमण अवश्य करें।

मुख्यमंत्री ने की उद्योगपतियों से वन-टू-वन चर्चा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट से पहले उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन चर्चा की। इस दौरान अडानी एग्रो ऑयल एवं गैस के प्रणव अडानी ने मुख्यमंत्री चौहान को प्रदेश में 60 हजार करोड़ रुपये निवेश का प्रस्ताव दिया। वहीं, आटीसी ग्रुप के संजीव पुरी ने मुख्यमंत्री चौहान से 1500 करोड़ रुपये के निवेश की बात कही। इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज के निखिल आर. मेसवानी ने संपूर्ण प्रदेश में 5जी सुविधा के विस्तार की योजना से अवगत कराया।  मुख्यमंत्री से चर्चा में आईटीसी ग्रुप के संजीव पुरी ने कहा कि निवेश आमंत्रित करने के क्षेत्र में मध्य प्रदेश अन्य राज्य की तुलना में अधिक सक्रिय है। इंदौर में विकास का उदाहरण प्रस्तुत किया है। सीएम से चर्चा में रिलायंस इंडस्ट्रीज के निखिल आर. मेसवानी ने कहा कि सेवा क्षेत्र में निवेश से आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ रही हैं। अत: रिलायंस समूह ने संपूर्ण प्रदेश में 5जी सुविधा उपलब्ध करवाएगा। समूह द्वारा प्रदेश में 175 पेट्रोल पम्प संचालित किए जा रहे हैं, इस संख्या को भी दोगुना किया जाएगा। रिलायंस समूह सौर ऊर्जा क्षेत्र में बड़े निवेश का इच्छुक है। इसके लिए चंबल क्षेत्र में आवश्यक सर्वे और अध्ययन जारी है। समूह प्रदेश में टेक्सटाइल की संपूर्ण प्रोसेसिंग इकाइयों की स्थापना की दिशा में भी निवेश का इच्छुक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की उन्नति के लिए प्रतिबद्ध और उद्योगपतियों तथा निवेशकों को हरसंभव सहयोग उपलब्ध कराने के लिए सदैव तत्पर है।

रेडी फॉर फ्यूचर स्टेट, पहले ही दिन दिखा सार्थक… उद्योग जगत ने शिवराज पर जताया भरोसा… 

अडानी समूह 60 हजार करोड़ और  आईटीसी करेगा 1500 करोड़ निवेश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट से पहले उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन चर्चा की। इस दौरान अडानी एग्रो ऑयल एवं गैस के प्रणव अडानी ने मुख्यमंत्री चौहान को प्रदेश में 60 हजार करोड़ रुपये निवेश का प्रस्ताव दिया। मुख्यमंत्री चौहान से वन-टू-वन चर्चा में अडानी एग्रो ऑयल एवं गैस के प्रणव अडानी ने कहा कि उनके समूह की प्रदेश में खनिज, ऊर्जा, कृषि, नवकरणीय ऊर्जा और कोयले के क्षेत्र में 60 हजार करोड़ के निवेश की योजना है। मुख्यमंत्री द्वारा स्थानीय युवाओं को रोजगार में प्राथमिकता देने के संबंध में चर्चा के दौरान अडानी ने कहा कि यह हमारा कर्तव्य है। समूह अपनी आवश्यकताओं के अनुसार युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए राज्य में कौशल उन्नयन की गतिविधियाँ संचालित करेगा। समूह का राज्य में अस्पताल स्थापित करने का भी विचार है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में खाद्य प्र-संस्करण इकाइयाँ लगाने की संभावनाओं से भी उन्हें अवगत कराया़।

डालमिया भारत समूह: जल्द लगाएगा सीमेंट प्लांट

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा में डालमिया भारत समूह के पुनीत डालमिया ने प्रदेश में सीमेंट प्लांट लगाने और स्वस्थ कार्बन साइकिल विकसित करने के लिए सहमति दी। डालमिया ने प्रदेश के वेस्ट लैंड पर पौधरोपण को प्रोत्साहित करने का प्रस्ताव रखा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निवेश में इस प्रकार के नवाचारों का प्रदेश में स्वागत है।

गोदरेज समूह : एग्रो केमिकल इंडस्ट्री लगाएगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान से भेंट में गोदरेज इण्डस्ट्री के नादिर गोदरेज ने प्रदेश में बढ़ रहे शहरीकरण को देखते हुए रियल एस्टेट क्षेत्र में निवेश की इच्छा व्यक्त की। इसके साथ ही एग्रो केमिकल उद्योग लगाने की योजना की जानकारी दी। श्री गोदरेज ने कहा कि उनका समूह मालनपुर स्थित इकाई का विस्तार कर रहा है। समूह सीएसआर के अंतर्गत स्वास्थ्य क्षेत्र में गतिविधियों को बढ़ाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पर्यटन के क्षेत्र में संभावनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश की लगातार बढ़ रही प्रति व्यक्ति आय से प्रदेश में आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ रही हैं।

टाटा ग्रुप: रिटेल आउटलेट की संख्या बढ़ाएगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा में टाटा इंटरनेशनल के श्री नोएल टाटा ने कहा कि उनका समूह प्रदेश में गतिविधियों का विस्तार करेगा। प्रदेश में समूह अपने रिटेल आउटलेट जूडियो की संख्या भी बढ़ाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश से समूह की निर्यात गतिविधियों को बढ़ाने की आवश्यकता बताई।

आईटीसी ग्रुप: डेढ़ हजार करोड़ का निवेश करेगा

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा में आईटीसी ग्रुप के संजीव पुरी ने कहा कि निवेश आमंत्रित करने के क्षेत्र में मध्यप्रदेश अन्य राज्य की तुलना में अधिक सक्रिय है। इंदौर में विकास का उदाहरण प्रस्तुत किया है। संजीव पुरी ने कहा कि प्रदेश में आईटीसी द्वारा 300 एफपीओ संचालित किए जा रहे हैं। इनका विस्तार कर 1000 एफपीओ स्थापित करने का लक्ष्य है, इसमें 1500 करोड़ रूपये का निवेश होगा। आईटीसी समूह प्रदेश में पैकेजिंग और खाद्य प्र-संस्करण इकाई स्थापित करने जा रहा है। पैकेजिंग इकाई इस वर्ष के अंत तक आरंभ हो जाएगी। समूह सुगंधित पौधों की खेती को प्रोत्साहित कर रहा है। इसके प्र-संस्करण पर आधारित इकाई भी प्रदेश में स्थापित की जाएगी। किसानों को फसल लेने, बिक्री आदि के संबंध में मार्गदर्शन उपलब्ध कराने के लिए आईटीसी मार्ट का भी विस्तार किया जा रहा है।

एक्सेंचर ग्रुप: पूरे प्रदेश में विस्तार करेंगे

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा में एक्ससेंचर की सुश्री रेखा मेनन ने मध्यप्रदेश की आईटी नीति की सराहना करते हुए कहा कि यह नीति आई.टी. इंडस्ट्री के लिए बहुत उपयोगी और मित्रवत है। इंदौर में कार्य का उपयुक्त वातावरण है। अत: इंदौर निरंतर आई.टी. प्रोफेशनल्स का केन्द्र बनता जा रहा है। एक्ससेंचर ने इंदौर में 6 महीने पहले ही कार्य आरभ किया है, जहाँ 1400 लोग कार्य कर रहे हैं। समूह प्रदेश में गतिविधियों का विस्तार करेगा।

रिलायंस ग्रुप संपूर्ण प्रदेश में 5जी सुविधा का करेगा विस्तार

मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा में रिलायंस इंडस्ट्रीज के श्री निखिल आर. मेसवानी ने कहा कि सेवा क्षेत्र में निवेश से आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ रही हैं। अत: रिलायंस समूह संपूर्ण प्रदेश में तहसील स्तर तक इस वर्ष के अंत तक 5 जी सुविधा उपलब्ध करवाएगा। समूह द्वारा प्रदेश में 175 पेट्रोल पम्प संचालित किए जा रहे हैं, इस संख्या को भी दोगुना किया जाएगा। रिलायंस समूह सौर ऊर्जा क्षेत्र में बड़े निवेश का इच्छुक है। इसके लिए चंबल क्षेत्र में आवश्यक सर्वे और अध्ययन जारी है। समूह प्रदेश में टेक्सटाईल की संपूर्ण प्रोसेसिंग इकाइयों की स्थापना की दिशा में भी निवेश का इच्छुक मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की उन्नति के लिए प्रतिबद्ध और उद्योगपतियों तथा निवेशकों को हरसंभव सहयोग उपलब्ध कराने के लिए सदैव तत्पर है।

Related Articles

Back to top button