मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश की पूर्व सीएम उमा भारती अज्ञातवास पर, जंगल में बिताई रात, तस्वीरें आईं सामने …

भोपाल। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती इन दिनों सुर्खियों में हैं। उन्होंने ट्विटर पर कल अज्ञातवास की घोषणा की थी। बुधवार की रात लगभग साढ़े दस बजे वह अचानक से सलकनपुर शक्तिपीठ में देवी दर्शन के लिए पहुंची। चंद्रग्रहण के कारण मंदिर के पट बंद होने पर उमा भारती ने जंगल में ही शिव मंदिर के पास बने एक चबूतरे पर रात्रि विश्राम किया। उन्होंने सुबह 5 बजे पट खुलते ही शिखर दर्शन कर माता रानी का पूजन अर्चन किया। इस दौरान की उनकी तस्वीरें वायरल हो रही हैं।

मां जगदंबा की पूजा-अर्चना और दर्शन के बाद वे नागपुर की तरफ रवाना हो गईं। मीडिया से बातचीत के दौरान उमा ने कहा कि यह स्थान उन्हें बहुत अच्छा लगता है। उन्होंने सलकनपुर ट्रस्ट के अध्यक्ष उपाध्याय से भी यहां पर एक कुटिया बनाने का निवेदन किया है। उमा भारती ने कहा कि दीदी मां के नाम के लिए मुझे विद्यासागर महाराज ने कहा था।

मध्य प्रदेश की राजनीति में उमा भारती एक ऐसा सस्पेंस वाला सीरियल बन गई हैं, जिसके अगले एपिसोड में क्या होगा, किसी को नहीं पता। एक बात सबको पता है कि बार-बार बयान और अभियान बदलने के कारण उमा भारती का मूल्य कम होता चला जा रहा है। सबको लगने लगा है कि सरकार पर दबाव बनाने के लिए और 2024 के लोकसभा चुनाव में टिकट प्राप्त करने के लिए उमा भारती शराबबंदी के अभियान को लेकर बयान दिया करती हैं। दरअसल, शराबबंदी के मामले में उमा भारती ने ‘तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख’ दी, परंतु अभियान शुरू नहीं किया। यही कारण है कि उमा भारती को अब लोगों ने गंभीरता से लेना बंद कर दिया।

इधर, देवास में भाजपा महिला मोर्चा का दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर बुधवार से शुरू हुआ। शिविर की शुरुआत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा द्वारा की गई। प्रशिक्षण शिविर के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महिला मोर्चा की तरफ से लगाई गई पोषक अनाज प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने महिलाओं से चर्चा भी की। शिविर से बाहर निकलते समय भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मीडिया ने चर्चा की। इसी दौरान मीडिया द्वारा उमा भारती के अज्ञातवास पर सवाल किया गया। इस पर दोनों ही दिग्गज नेताओं ने किनारा करते हुए प्रशिक्षण शिविर से जुड़ी जानकारी देना शुरू कर दिया। बातचीत के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आंगनवाड़ी को एडॉप्ट करने का काम हमारी बहनें कर रहीं हैं। नारी सशक्तिकरण के लिए वन स्टॉप सेंटर, शिक्षा के क्षेत्र में और प्रोग्रेस हो, इसके साथ ही लाड़ली लक्ष्मी योजना का ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ दिया जा सके, इसके प्रशिक्षण पर काम किया जा रहा है। हालांकि, इसी बीच जब मीडिया की ओर से सीएम और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से सवाल किया गया कि, पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती शराबबंदी को लेकर पार्टी की कार्यप्रणाली से आहत होकर अज्ञातवास पर जा रहीं हैं। तब दोनों ही सवाल को टालते हुए नजर आए।

इससे पहले संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के अज्ञातवास पर जाने के सवाल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि भाजपा तो उनके साथ और उनके नेतृत्व में ही पली-बढ़ी है। उन्हीं की चिंता को लेकर अभी मध्य प्रदेश में नशामुक्त अभियान की शुरुआत की गई है। हम सब, संगठन का हर व्यक्ति समाज को नशा मुक्त बनाने के लिए प्राण-प्रण से लगे हुए हैं। इसे बैन करके ठीक नहीं कर सकते। हमको मानस नशा मुक्त करना होगा। वातावरण में सकारात्मकता सोच लानी पड़ेगी, तब समाज इस बुराई से छुटकारा पा सकेगा।

Related Articles

Back to top button