मध्य प्रदेश

सेना में भर्ती के लिए अग्निवीरों से अवैध वसूली कर रहा फर्जी फौजी राहुल सिंह चौहान धराया …

भोपाल। जबलपुर के गोराबाजार थाना क्षेत्र में सेना की इंटेलिजेंस विंग ने एक फर्जी फौजी राहुल सिंह चौहान को गिरफ्तार किया है। फौजी की वर्दी पहनकर यह युवक राहुल सिंह चौहान यहां अग्निवीर परीक्षा में शामिल होने आए युवाओं से अवैध वसूली कर रहा था। जब यह सूचना सेना के अफसरों को लगी तो उन्होंने फौरन सेना के इंटेलिजेंस विंग को सूचना दी। इंटेलिजेंस विंग ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। आरोपी युवक राहुल सिंह चौहान सीधी का रहने वाला है।

पुलिस के अनुसार यह युवक फौजी की फर्जी वर्दी पहनकर स्टेशन और बस स्टैंड पर घूमकर अग्निवीर बनने आए युवाओं को सेना में भर्ती कराने का झांसा दे रहा था। इसकी सूचना सेना के अधिकारियों को मिली तो उन्होंने तत्काल एक युवक को अग्निवीर परीक्षार्थी बनाकर भेजा। शिकायत की पुष्टि होते ही सेना के इंटेलिजेंस विंग ने उस नकली फौजी को पकड़ लिया। वह युवाओं को अग्निवीर के फिजिकल और मेडिकल में पास करवाने का भरोसा देकर पैसे ऐंठ रहा था।

पुलिस ने जब नकली फौजी से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसका नाम राहुल सिंह चौहान है और वह सीधी जिले की चमरदह तहसील का रहने वाला है। वह कुछ दिनों से गोराबाजार थाना इलाके के तिलहरी में रह रहा है। उसके कब्जे से सेना की वर्दी पहने फौजियों के साथ उसकी तस्वीरें भी मिली हैं। बताया जा रहा है कि मिलिट्री अस्पताल में पदस्थ एक कर्मचारी के साथ यह सेना के अस्पताल और अन्य क्षेत्रों में आता जाता था। सेना की इंटेलिजेंस विंग और पुलिस इस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है।

भर्ती में आने वाले युवाओं से अपील

जबलपुर में 15 सितंबर से अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीरों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। इसमें आसपास के जिलों से हजारों युवा परीक्षा देने पहुंचे हैं। आशंका है कि राहुल सिंह चौहान की तरह और भी कई लोग युवाओं को सेना में भर्ती करवाने का झांसा देकर ठग सकते हैं। इसलिए सेना और पुलिस ने युवाओं से अपील की है कि किसी भी शख्स के बहकावे में आकर पैसे ना दें। क्योंकि, अग्निवीर योजना में कोई भी नियुक्ति पैसों के माध्यम से नहीं हो सकती।

Related Articles

Back to top button