देश

भाजपा ने राहुल गांधी के आरोपों का जवाब दिया, कथित शेयर मार्केट घोटाले पर की प्रेस कॉन्प्रेंस

नई दिल्ली
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने 3 से 4 जून को शेयर बाजार में हुए उतार-चढ़ाव को शेयर बाजार का सबसे बड़ा घोटाला बताया। भाजपा ने राहुल गांधी के आरोपों का जवाब दिया है। भाजपा के नेता पीयूष गोयल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि राहुल गांधी लोकसभा चुनावों में हुई हार से हताश हैं। वह निवेशकों को गुमराह करना चाहते हैं। पीयूष गोयल ने कहा कि राहुल गांधी अभी भी लोकसभा चुनाव में मिली हार से उबर नहीं पाए हैं। अब वह बाजार के निवेशकों को गुमराह करने की साजिश रच रहे हैं। ऐसा कर वह बाजार में डर का माहौल बनाना चाहते हैं। उनको पता होना चाहिए कि आज भारत पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है।
 
पीएसयू का मार्केट कैप बढ़ा चार गुना
पीयूष गोयल ने कहा कि मोदी सरकार के पिछले 10 वर्षों में पहली बार हमारा मार्केट कैप 5 ट्रिलियन डॉलर से अधिक हो गया है। आज भारत का इक्विटी बाजार दुनिया की शीर्ष 5 अर्थव्यवस्थाओं के मार्केट कैप में प्रवेश कर गया है। हम जानते हैं कि मोदी सरकार में बाजार में सूचीबद्ध पीएसयू का मार्केट कैप 4 गुना बढ़ गया है।

10 साल में लगभग सात गुना बढ़ा मार्केट कैप
पीयूष गोयल ने कहा कि 10 साल पहले जब यूपीए सरकार सत्ता में थी। उस समय भारत का मार्केट कैप 67 लाख करोड़ रुपये था। पीएम मोदी के नेतृत्व में 10 साल में शेयर मार्केट का मार्केट कैप बढ़कर 415 लाख करोड़ रुपये हो गया है।

10 सालों में 5 फीसद बढ़ी भारतीयों की हिस्सेदारी
पीयूष गोयल ने कहा कि यूपीए के समय विदेशियों की हिस्सेदारी 21% थी। आज यह घटकर 16% हो गई है, यानी विदेशियों का निवेश कम हो गया है। भारतीय शेयर बाजार में भारतीय निवेशकों की हिस्सेदारी 79% से बढ़कर 84% हो गई है। 2014 में म्यूचुअल फंड का आकार केवल 10 लाख करोड़ रुपये था। आज यह 5 गुना से अधिक बढ़कर 56 लाख करोड़ रुपये हो गया है। म्यूचुअल फंड के माध्यम से भारतीय निवेशक खासकर छोटे निवेशक इसका फायदा उठा रहे हैं। आज बढ़ते बाजार और इन छोटे खुदरा निवेशकों ने यह सुनिश्चित किया है कि आज भारत का स्वामित्व संस्थागत निवेशकों के स्वामित्व से कहीं अधिक हो गया है।

Back to top button