मध्य प्रदेश

रामनवमी हिंसा का मास्टरमाइंड अफजल 6 आरोपियों के साथ धराया, बिच्छू गैंग चलाता है आरोपी, अवैध हथियार भी बेचता है …

भोपाल. मध्यप्रदेश के खरगोन में रामनवमी पर हुए दंगों के मास्टरमाइंड अफजल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उसके पास से चार पिस्टल भी जब्त की हैं. प्रकरण में इसे मिलाकर अब तक कुल 7 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. आरोपी अफजल बिच्छू गैंग का सरगना है, उसके सिर पर 10 हजार रुपए का इनाम है.वह हथियारों की खरीद-फरोख्त में भी सक्रिय रूप से संलग्न है.

खरगोन एसडीओपी राकेश मोहन शुक्ला के मुताबिक खरगोन में अप्रैल में रामनवमी के जुलूस के दौरान पथराव और आगजनी हुई थी. इस हिंसा और सांप्रदायिक दंगों में अफजल की अहम भूमिका रही है. एसपी धर्मवीर सिंह के निर्देश पर पुलिस की स्पेशल टीम ने आरोपी को हिरासत में लिया है. आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. खरगोन में बिच्छू गैंग चलाने वाला अफजल, अजय सिकलीगर नाम के आरोपी से अवैध हथियार खरीद कर लाता था और लोगों को बेचता था. रामनवमी के दंगे के दौरान भी उसने चार पिस्टल आरोपियों को बेची थीं.

एसडीओपी ने बताया कि अफजल के पास से 4 पिस्टल भी जब्त की गई हैं. उसे गिरफ्तार करने के साथ ही 6 और आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है. आरोपी अफजल अमन नगर का रहने वाला है और उसने अजय सिकलीगर से 6 पिस्टल खरीदी थी. इसमें से 4 पिस्टल खरगोन में और 2 पिस्टल इंदौर के रहने वाले शादाब और नौशाद को बेची थी. खरगोन पुलिस पूछताछ के बाद पुलिस इंदौर सहित अन्य शहरों में भी इस दंगे के तार जुड़े होने की जांच कर सकती है. फिलहाल अफजल समेत सातों आरोपियों से कड़ी पूछताछ की जा रही है.

शुक्ला ने बताया कि दंगे के बाद से ही आरोपी फरार चल रहा था. पुलिस को आरोपी से और भी खुलासे होने की उम्मीद है. पुलिस आरोपी की रिमांड लेकर पूछताछ कर रही है. शुक्ला के अनुसार अफजल पर 15 से अधिक अपराध दर्ज हैं. उस पर एक बार एनएसए की कार्रवाई भी की जा चुकी है. फरार अफजल पर 10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया गया था. अफजल सिकलीगरों से अवैध हथियार खरीदकर बेचता था.

Related Articles

Back to top button