Breaking News
.

तेजस्वी प्रकाश और करण कुंद्रा के रिश्तों में विशाल कोटियन की वजह से आई दरार, बदल गया घर का माहौल…

नई दिल्ली। टीवी पर प्रसारित हो रहे बिग बॉस 15 एपिसोड में रोमांस और ड्रामा हाई वोल्टेज पर पहुंच चुका है। तेजस्वी प्रकाश और करण कुंद्रा के रिश्तों में विशाल कोटियन की वजह दरार  गया है तो वहीं प्रतीक सहजपाल और उमर रियाज की लड़ाई से घर वाले हैरान परेशान दिखे। वहीं बॉटम 6 में सिम्बा नागपाल, विशाल कोटियन, उमर रियाज़, जय भानुशाली, नेहा भसीन और राजीव अदतिया के नाम की घोषणा से सभी शॉक में देखें गए।

एपिसोड की शुरुआत प्रतीक सहजपाल और उमर रियाज की लड़ाई के साथ शुरू हुआ। रूटिन ड्यूटी को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई। गाली-गलौज के बाद, उमर को प्रतीक को चेतावनी देते हुए देखा गया कि वह अपनी हदें न करें। हालांकि प्रतीक उमर को उकसाने की कोशिश करते हैं। इसके बाद उमर रियाज आगबबूला होकर प्रतीक पर भड़कने लगते हैं। लड़ाई इतनी बढ़ जाती है कि प्रतीक और उमर औकात की बात करने लग जाते हैं। इसके बाद गुस्से से बौखलाए प्रतीक उमर को तेज धक्का मार देते हैं।

अलग भाग में मीडिया से बातचीत के दौरान पत्रकार अभिजीत बिचुकले से बिग बॉस मराठी नहीं जीतने को लेकर सवाल करते हैं। इस पर वाइल्डकार्ड एंट्री ने जवाब दिया कि वह देश का प्रधानमंत्री बनना चाहता है, और यह शो आना उसके लिए एक छोटी सी बात है। अभिजीत के इस जवाब से रश्मि देसाई काफी नाराज हो जाती हैं उसे जमकर सुना देती हैं।

प्रतीक से लड़ाई होने के बाद आगे फिर उमर का सामना विशाल कोटियन से होता है। जब विशाल उन्हें टोंट हुए कहते हैं,’वह एक्टर नहीं एक डॉक्टर’ हैं। हालांकि बाद में और विशाल को उमर से उसके व्यवहार के लिए माफी मांगते हुए देखा गया। इसी बीच जब शमिता शेट्टी ने विशाल से कहती हैं कि जय उनसे नाराज हैं तो विशाल ये कहते हुए उनकी बात टाल देते हैं कि जय उनसे द्वेष रखता है। भले ही उसने कभी उसके साथ कुछ भी गलत नहीं किया हो।

आगे की एपिसोड में करण को तेजस्वी से विशाल के साथ उनकी बॉन्डिंग को लेकर सवाल करते देखा गया। उन्होंने तेजस्वी से पूछा कि वह शमिता के पक्ष में होने के बावजूद विशाल को सेव क्यों कर रही हैं। करण कहते हैं कि तेजस्वी के मन में विशाल के लिए एक सॉफ्ट-कॉर्नर है, तो वो समझाती हैं कि ऐसा इसलिए क्योंकि वे दोनों घर में पहले ही दिन से दोस्त हैं। करण कहते हैं कि उन्हें विशाल में क्या दिखता है जबकि वो जानती हैं कि वो सबकी पीठ पीछे उनके बारे में बातें करते हैं। इसपर तेजस्वी कहती हैं कि भले करण तय न कर पा रहे हों कि वो सही हैं या नहीं, मगर वो जानती हैं कि वो सही हैं। तेजस्वी आगे कहती हैं, “अल्टीमेटली तेरे ऊपर है तुझे जो सोचना है वो सोच, तुझे जो करना है तू वो कर”। हालांकि वो ये भी कहती हैं कि करण के ऐसा सोचने से वो हर्ट हैं और वो खुद कभी अपने पार्टनर के बारे में ऐसा नहीं सोच सकतीं।

error: Content is protected !!