Breaking News
.

राहुल गांधी को अपशब्द कहने वाली समाचार चैनल की एंकर ने मांगी माफ़ी, सीएम भूपेश के ट्वीट पर बिफरे रमन और मूणत, गरमाई सियासत …

रायपुर । बीते दिनों एक निजी राष्ट्रीय समाचार चैनल के एंकर द्वारा कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी को अपशब्द कहा गया था। हालांकि एंकर ने तुरंत ही अपनी गलती को मानते हुए माफ़ी भी मांगी थी। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी को एक निजी समाचार चैनल के एंकर द्वारा अपशब्द कहे जाने का असर छत्तीसगढ़ में दिखने लगा है। प्रदेश के मुखिया और पूर्व मुखिया में जमकर ट्वीट वार जारी है। सीएम भूपेश ने बड़े तल्ख अंदाज में ट्वीटर के जरिये एंकर को चेतावनी दे दी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने ट्वीट में लिखा- “कान खोलकर सुन लिया जाए। राहुल गांधी जी इस समय विपक्ष के प्रमुख नेता हैं। उनके बारे में अभद्र भाषा का प्रयोग कांग्रेस कार्यकर्ता क़तई स्वीकार नहीं करेंगे। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का दायित्व निभा रहे हर मीडिया का पूर्ण सम्मान है, लेकिन मर्यादा नहीं भूलना चाहिए।”

सीएम भूपेश द्वारा किये गए ट्वीट को लेकर अब प्रदेश में सियासत गरमा गई है। सीएम भूपेश के कड़े शब्दों को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह ने ट्वीट के जरिये ही पलटवार किया। रमन सिंह ने लिखा- छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा राष्ट्रीय मीडिया को खुलेआम धमकी दी जा रही है, यह संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देता। मैं उनकी इस धमकी भरी भाषा की निंदा करता हूं, उन्हें राष्ट्रीय मीडिया से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आपकी इस भाषा से छत्तीसगढ़ बदनाम हो रहा है,कम से कम प्रदेश की गरिमा का तो ख्याल रखिए।”

वहीं पूर्व मंत्री और भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजेश मूणत भी सीएम भूपेश पर निशाना (Twitter Fight) साधने में नहीं चुके। मूणत ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने सीएम भूपेश का नाम लिए बगैर इशारे में ही सीएम कड़े शब्दों को आपातकाल से जोड़ते हुए लिखा – अब ऐसा लग रहा जैसे 2.5 साल से अपनी कुर्सी बचाते-बचाते छत्तीसगढ़ कांग्रेस नरेश मानसिक स्थिति खो चुके हैं। “आका” के खिलाफ अभिव्यक्ति की आज़ादी पर सीधा धमकी “मीडिया और देश की जनता को”! ये इंदिरा गांधी की इमरजेंसी की आहट तो नहीं छत्तीसगढ़ में ?

एंकर ने मांगी माफ़ी : राहुल गांधी को अपशब्द कहे जाने के बाद सियासत काफी गरमा गई। जिसे देखते हुए राष्ट्रीय न्यूज चैनल की महिला एंकर ने देश के सामने अपने ट्वीट के माध्यम से उनके द्वारा गलती से असंसदीय शब्द कहे जाने की बात स्वीकारी। उन्होंने कहा कि ये जानबूझकर नहीं कहा गया था,लेकिन किसी को ठेस पहुंची है तो मै खेद व्यक्त करती हूं और माफ़ी मांगती हूं।

error: Content is protected !!