Breaking News
.

सपाध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से लड़ने के दिए संकेत, वर्चुअल रैली पर बोले- तैयारी पूरी नहीं, कैसे निपटेंगे झूठों से …

लखनऊ । सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजमगढ़ सीट से विधानसभा चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं। अखिलेश यादव ने वर्चुअल रैलियों को लेकर एक बार फिर से चिंता जताते हुए समाजवादी पार्टी की तैयारी न होने की बात कही है। बुधवार को लखनऊ में मीडिया से बात करते हुए सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा नेताओं को कैसे पता कि वर्चुअल रैलियां होंगी। सपा क्षेत्रीय दल है और हमारी तैयारी पूरी नहीं है। भाजपा ने जिला कार्यालयों तक में स्टूडियों बना लिए हैं। सबसे बड़ा सवाल यह है कि झूठों से कैसे मुकाबला किया जाए। अखिलेश यादव ने कहा कि इन लोगों की तैयारी पहले से ही पूरी थी। उन्होंने कहा कि हमने भी तैयारी की है, लेकिन हमारे साथ जो क्षेत्रीय दल जुड़े हैं, उनकी उतनी तैयारी नहीं है।

उन्होंने कहा कि यदि जनता चाहेगी तो फिर मैं चुनाव में उतरूंगा। उन्होंने कहा कि पहले भी लोगों ने मुझे यहीं से चुनाव जिताया था। अखिलेश यादव ने कहा कि आजमगढ़ की जनता ने मुझे पहले भी जिताया है, इसलिए वहां की जनता से यह पूछना जरूरी हो जाता है कि मैं वहां से चुनाव लड़ूं। 300 यूनिट बिजली फ्री देने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि हमने जैसे ही यह फैसला लिया तो भाजपा घबरा गई। उन्होंने तुरंत बिजली बिल को आधा करने का फैसला ले लिया। अब सवाल यह है कि क्या वे पैसे वापस करेंगे या नहीं।

यही नहीं इस दौरान अखिलेश यादव ने अपर्णा के भाजपा में शामिल होने पर भी टिप्पणी की। अखिलेश यादव ने कहा कि मुझे खुशी है कि समाजवादी विचारधारा अब भाजपा में भी पहुंच गई है। अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि हम भाजपा का अभी एक और विकेट गिरा सकते हैं। अखिलेश यादव ने कहा, ‘हमने दो दिन पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि अब हम भाजपा से किसी और को नहीं लेंगे। लेकिन यदि कोई उधर टच में है तो इधर से भी कोई टच में हैं।’

शिवपाल यादव के भाजपा के टच में होने के सवाल पर अखिलेश ने यह बात कही है। दरअसल भाजपा की जॉइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने कहा था कि लखनऊ में कल बड़ी जॉइनिंग होने वाली है और यह देखने वाली होगी। इसके बाद से ही कयास लगाए जा रहे हैं कि आखिर कौन नेता शामिल हो सकते हैं।

error: Content is protected !!