Breaking News
.

अति नक्सल प्रभावित जिले की बेटी सोनाली बनी टॉपर, बनना चाहती है डॉक्टर …

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के दसवीं बोर्ड के नतीजे आज आ गए हैं। कांकेर के धुर नक्सलगढ़ गोण्डाहुर की छात्रा सोनाली बाला ने 592 अंकों के साथ संयुक्त रूप से छत्तीसगढ़ में टॉप किया है। सोनाली को दसवीं में 98.67 प्रतिशत अंक मिले हैं। सोनाली गोण्डाहुर के शासकीय स्कूल की छात्रा है। उसका गांव गोण्डाहूर पीव्ही-52 ब्लाक मुख्यालय पखांजूर से 20 किमी की दूरी पर है। यह अति नक्सल प्रभावित इलाका है। सोनाली का सपना डॉक्टर बनने का है। 

सोनाली ने बताया कि अंदरूनी इलाका होने के कारण पढ़ाई में कई तरह की दिक्कतें आती थीं। ये ऐसा इलाका है जहां बिजली कभी भी गुल हो जाती है। ऐसे में पढ़ाई में भी खासी दिक्कतें आती थीं। सोनाली ने बताया कि उसके माता-पिता और स्कूल के शिक्षकों का विशेष योगदान रहा। तब जाकर उन्हें यह मुकाम मिला है। सोनाली 11वी में बायोलॉजी लेकर पढ़ाई करना चाहती है। साथ ही डॉक्टर बनकर अपने पिछड़े हुए क्षेत्र के लोगों की सेवा करना चाहती हैं।

सोनाली बाला के पिता जयदेव बाला पेशे से शिक्षक हैं। सोनाली हर दिन 8 से 10 घंटे रोजाना पढ़ाई करती थी। सोनाली ने बताया कि जब उन्हें समय मिलता था, तब पढ़ाई करती थी। उन्होंने अपने सफलता श्रेय माता-पिता को दिया है। सोनाली बताती है कि पढ़ाई के दौरान पिता ने मार्गदर्शन किया। वहीं उनकी इस सफलता में गुरुजनों का भी विशेष योगदान रहा है। सोनाली के पूरे राज्य में प्रथम आने के बाद उनके घर ग्रामीणों का हुजूम लग गया।

error: Content is protected !!