Breaking News

राजस्व मंत्री जयसिंह ने कहा- छत्तीसगढ़ शासन कोरबा सहित प्रदेशभर में कोरोना की बेहतरीन चिकित्सा सुविधा कर रही प्रदान …

कोरबा। स्कूल शिक्षा विभाग कोरबा द्वारा आनलाईन वर्चुअल बैठक के माध्यम से विद्यार्थी, पालक व शिक्षक समुदाय के मध्य चलाए जा रहे, कोरोना नियंत्रण जागरूकता अभियान के तहत, बातचीत में कहा कि प्रदेश में कोरोना महामारी से लड़ाई में छत्तीसगढ़ सरकार बेहतरीन चिकित्सा सुविधा प्रदान कर रही है।

उन्होंने शिक्षकों की जिज्ञासा को शांत करते हुए कहा कि जिनकी ड्यूटी कोरोना नियंत्रण में लगी है उनको यदि कोरोना का संक्रमण होता है. तो उनका इलाज शासन द्वारा कराया जाएगा। उन्होंने कोरबा जिला में बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के साथ-साथ विद्यालयों की अधोसंरचना को सुधारने उसे और अधिक सुंदर बनाने तथा शासकीय विद्यालयों को आकर्षक बनाने के लिए किये गए प्रयासों का जिक्र कर, विद्यार्थियों व शिक्षकों का उत्साह बढाया।

राजस्व व आपदा प्रबंधन मंत्री ने आनलाईन से जुड़े विद्यार्थियों के सवालों के जवाब दिए। मुस्कान राज तिलकेजा ने प्रश्न किया, कि कोरोना वायरस श्वसन तंत्र को ही क्यों प्रभावित करता है। रिया स्वर्णकार कोरकोमा की जिज्ञासा थी, कि टीका के प्रथम डोज में परेशानी आने के कारण कई लोग दूसरा डोज लगाने से डर रहे है। इस भ्रांति को कैसे दूर करे। राज राठौर उतरदा ने कहा तालाब या नलकूप का सामूहिक उपयोग से संक्रमण फैलने का डर बना हुआ है। मंत्री ने सभी बच्चों के जिज्ञासा को शांत किया। एवं सटीक जवाब देकर बच्चों को संतुष्ट किया।

संबोधन की कड़ी में पार्षद सुरेन्द्र जायसवाल ने बताया, कि कोरबा जिला में शासन व प्रशासन के अच्छा समन्यवय व उनकी निष्ठा का परिणाम है, कि समस्याओं का जल्द समाधान हो रहा है। 420 बिस्तरों वाला हास्पिटल की सुविधाएं शुरू करने के लिए मंत्री का धन्यवाद किया। नगर निगम कोरबा के मेयर राजकिशोर ने पॉजिटिव ब्यक्तियों को तुरंत मेडिकल किट उपलब्ध कराने की जानकारी दी।

सभापति श्यामसुंदर सोनी ने कहा, कि आज कोरोना संकट के विकट घड़ी में शिक्षक वर्ग भी अपने परिवार की चिंता किये बगैर, आम जनों की सेवा के लिए डटे हैं, जो की सराहनीय है। इस वर्चुअल बैठक में उपस्थित लोगों को पालूराम साहू पार्षद, श्रीमती सपना चौहान‌, श्रीमती प्रीति कंवर जिला पंचायत सदस्य, सुधीर जैन मंडल अध्यक्ष, अमरजीत सिंह पार्षद एम. आई. सी. मेबर ने बालक, पालक, ग्रामीण जनों को कोरोना बचाव व रोकथाम पर जन जागरूकता संबंधी संदेश दिए।

सतीश पांडे जिला शिक्षा अधिकारी कोरबा ने प्रारंभ में ही सभी का मार्गदर्शन करते हुए जिला मे 20 दिनों से चल रहे जागरूकता अभियान के लिए प्राचार्यों व शिक्षकों की सेवा भावना को श्रेय दिया। संचालन श्रीमती निशा चंद्रा व्याख्याता एवं श्रीमती मंजुला श्रीवास्तव व्याख्याता द्वय ने किया। रचना प्राकल्पन कामता जायसवाल प्रभारी प्राचार्य तुमान ने की जिसमें सभी कलस्टर प्राचार्यों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

संपूर्ण वर्चुअल बैठक की कार्यवाही को राकेश टंडन व्याख्याता उतरदा द्वारा तकनीकी सहयोग करते हुए गुगल मीट संचालन करते हुए फेसबुक व यूट्यूब पर प्रसारित किया गया। जिसे 900 लोगों ने देखा। साथ ही फोन कांटेक्ट चैन द्वारा जन जागरूकता संदेश को फैलाये जाने का निश्चय किया।

शिक्षा विभाग इस कार्यक्रम जिसमें कोरोना के लक्षण, नि:शुल्क जांच एवं ईलाज की सुविधा, कोरोना से बचने के उपाय, टीकाकरण की भ्रांतियां को दूर किया गया को कोरबा जिले के ही नहीं बल्कि राज्य के अन्य जिले के छात्र छात्राए, अभिभावक, नागरिक एवं जन प्रतिनिधियों ने सराहना की।

श्रीमती फरहाना अली व पी पटेल, लक्ष्मीकात साहू प्राचार्य ने जागरूकता अभियान के कुछ खास बिंदुओं से अवगत कराया। जिला से गणराज सिंह कंवर जिला पंचायत सदस्य, प्राचार्यगण वीरभद्र सिंह पैकरा, श्रीमती रमाउमा निडि, सुखदेव डिंडोरे, विवेक लांडे, एमआर श्रीवास, जी. पी. जानवर, श्रीमती अनीता ओहरी, श्रीमती ज्योति शुक्ला, श्रीमती संगीता साव, व्याख्यातागण भुपेन्द्र सिन्ह राठौर, प्रकाश पडवाल, सुश्री प्रभा साव, श्रीमती ममता सिंह राजपूत, महावीर प्रसाद चन्द्रा, लखन लाल धीवर, श्रीमती रीता चौधरी, सर्वेश सोनी, मुकुंद उपाध्याय सहित पार्षद जनप्रतिनिधि, विद्यार्थी, अभिभावक, शिक्षक व्याख्याताओं ने हिस्सा लिया एवं फेसबुक यूट्यूब से सैकड़ों लाभांन्वित हुए। धन्यवाद ज्ञापन विश्वनाथ कश्यप प्राचार्य पोड़ी लाफा द्वारा किया गया।

error: Content is protected !!