Breaking News

रतनपुर एवं कोटा में कोविड केयर सेंटर हो रहा है तैयार : इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत करने युद्ध स्तर पर किया जा रहा काम …

बिलासपुर । कोविड से निपटने के लिए प्रशासन द्वारा असाधारण प्रयास किये जा रहे है। केवल 10 दिनों के भीतर रतनपुर स्थित लखनी देवी मंदिर परिसर में आक्सीजन बेड का बड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर लिया गया है। कोटा विकासखण्ड में सी.वी.रमन यूनिवर्सिटी परिसर में भी कोविड केयर सेंटर की तैयारी अंतिम चरण में है। कलेक्टर डा. सारांश मित्तर ने आज तैयार किये जा रहे इन दोनों कोविड केयर सेंटरों का जायजा लिया।

कलेक्टर डा. सारांश मित्तर हर दिन आक्सीजन बेड बढ़ाने की दिशा में कार्य कर रहे है। प्रशासन द्वारा हर दिन इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत करने युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि न्यूनतम समय में जिले में कोरोना पीड़ित मरीजों के उपचार के लिए अधिक से अधिक आक्सीजन बेड उपलब्ध कराने की दिशा में प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी में कलेक्टर ने सबसे पहले विकासखण्ड कोटा में सीवी रमन यूनिवर्सिटी परिसर में तैयार किये जा रहे 20 बिस्तरयुक्त कोविड केयर सेंटर का जायजा लिया। यहां 10 आक्सजीनेटेड बेड की सुविधा उपलब्ध होगी।

कलेक्टर ने यहां के प्रभारी, अधिकारियों से की जा रही तैयारियों की जानकारी ली और इसका काम जल्द पूरा करने कहा। इसी प्रकार  रतनपुर स्थित लखनी देवी मंदिर परिसर में 30 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। जिसमें 20 आक्सीजनेटेड बेड है। कलेक्टर ने परिसर का बारीकी से निरीक्षण किया। इस सेंटर में 3 दिनों के भीतर मरीजों का उपचार शुरू हो जाएगा। यहां 10 आक्सीजन कन्संट्रेटर मशीन की व्यवस्था की गई है। कलेक्टर ने यहां आक्सीजन सिलेण्डरों की उपलब्धता, बिजली बेकअप एवं अन्य आवश्यक चीजों की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति बनी रहें। कलेक्टर ने इस दौरान वहां ट्रेनिंग ले रहे डाक्टरों एवं अन्य कर्मचारियों से भी चर्चा की और उनका मनोबल बढ़ाया। निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल, एसडीएम तुलाराम भारद्वाज सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

error: Content is protected !!