Breaking News
.

हैवानियत: सराफा कारोबारी ने 12 साल की लड़की को गोद लिया, घर ले जाने के दूसरे दिन से ही करने लगा गलत हरकतें…

ग्वालियर। में एक सराफा व्यापारी ने अपनी गोद ली हुई बेटी से ही छेड़छाड़ की। व्यापारी और उसकी पत्नी ने 5 अगस्त को 12 साल की लड़की को गोद लिया था। व्यापारी ने दूसरे दिन से ही अश्लील हरकत करना शुरू कर दी। लड़की ने उसके पेट में लात मारकर उसे दूर किया। दो दिन बाद फिर ऐसी ही हरकत होने से परेशान लड़की ने बालिका गृह अधीक्षिका से शिकायत की। इसके बाद अधीक्षिका रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। आरोपी परिवार समेत फरार है।

जनकगंज के गोल पहाड़िया निवासी एक सराफा कारोबारी की शादी को करीब 10 साल हो गए हैं। उनके यहां बच्चा नहीं हो रहा था। डॉक्टरों ने भी हाथ खड़े कर दिए। परिवार आर्थिक रूप से संपन्न है। ऐसे में उन्होंने बच्चा गोद लेने का मन बनाया। उन्होंने बहोड़ापुर के विनय नगर स्थित बालिका गृह में लड़की को गोद लेने के लिए आवेदन दिया। यहां करीब डेढ़ साल पहले रेलवे पुलिस की मदद से आई 12 साल की लड़की को गोद ले लिया। औपचारिकताएं पूरी कर 5 अगस्त को वह लड़की को घर ले आए।

लड़की अपने नए घर पहुंची थी। एक दिन बाद नए रिश्ते की सच्चाई से सामना हुआ। 6 अगस्त की रात 12 बजे जब वह सो रही थी, तो पिता अश्लील हरकतें करने लगा। लड़की ने बालिका गृह में सिखाए गए टिप्स पर काम करते हुए आरोपी के पेट में जोरदार किक मारी और कमरे से बाहर निकल गई। इसके बाद बाहर सोफे पर सो गई। उस दिन से वह घबराने लगी। दो दिन बाद 8 अगस्त की सुबह 6 बजे लड़की कमरे में थी, तभी आरोपी फिर आया। उसके साथ फिर छेड़छाड़ की। बच्ची जागी और विरोध किया तो आरोपी उसे धमकी देकर चला गया।

11 अगस्त को जब कारोबारी दंपती की तबीयत खराब थी, तभी बच्ची ने मोबाइल से बालिका गृह की अधीक्षक शीला को कॉल कर आपबीती बताई। शीला उसके पास पहुंचीं और लड़की को वापस ले गईं। उन्होंने SP ग्वालियर से शिकायत की। फिर आरोपी के खिलाफ जनकगंज थाने में मामला दर्ज किया गया। जनकगंज थाने में महिला ऑफिसर न होने पर मामले को माधवगंज थाना प्रभारी वर्षा सिंह ने हैंडल किया है। उन्होंने बताया कि आरोपी की डिटेल बालिका गृह से मांगी गई है। देखा जा रहा है कि आरोपी को बालिका कैसे गोद दी गई। आरोपी का पुलिस वैरिफिकेशन कराया था या नहीं। आरोपी भी जल्द पकड़ा जाएगा।

error: Content is protected !!