Breaking News
.

भाजपा को चुनाव में नहीं चाहिए सीजी पुलिस, कहा- मुख्यमंत्री, गृह मंत्री के इलाके में चुनाव, स्टेट पुलिस पर रहता है सरकार का दबाव …

दुर्ग । जिले में भिलाई, रिसाली, चरौदा निगम सहित जामुल नगर पालिका में 20 दिसंबर को पार्षद पद के लिए वोट डाले जाएंगे। दुर्ग जिले का निकाय चुनाव प्रदेश के मुखिया और कांग्रेस पार्टी दोनों के लिए साख का सवाल बन गया है। बैलेट पेपर से चुनाव होना है। ऐसे में राज्य पुलिस सुरक्षा के बीच कांग्रेसी कोई अनहोनी को अंजाम दे सकते हैं। भाजपा के जिला मीडिया प्रभारी सुभाष शर्मा का कहना है कि मतदान और मतगणना के दौरान सेंट्रल फोर्स को भी ड्यूटी पर लगाना चाहिए। ऐसा होने से चुनाव के दौरान किसी भी प्रकार की अनहोनी नहीं हो सकेगी। इस मांग को जल्द ही वह राज्य निर्वाचन आयोग के सामने भी रख सकते हैं।

भाजपा नेताओं का कहना है सभी नगरीय निकाय चुनाव राज्य पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था में होना है। भिलाई नगर निगम सहित रिसाली, भिलाई चरौदा नगर निगम और जामुल नगर पालिका मुख्यमंत्री और गृह मंत्री के क्षेत्र में आते हैं। राज्य पुलिस गृह मंत्री के दबाव में होती है। उस पर राज्य शासन का दबाव होता है। इसके चलते जहां एक तरफ इलाकों में चुनाव का माहौल धीरे-धीरे जोर पकड़ रहा है, वहीं शिकायतों और आशंकाओं का दौर भी जारी है। भाजपा ने गलत मतदाता सूची देने को लेकर जिला प्रशासन के ऊपर भेदभाव का आरोप लगाया था। इसके साथ ही अब पुलिस प्रशासन पर भी सवाल खड़ा कर दिया है।

नगरीय निकाय चुनाव के चलते दुर्ग जिले में धारा 144 लागू हो चुकी है। जिले भर के पुलिस बल को जिले की सुरक्षा ड्यूटी में तैनात किया गया है। मतदान और मतगणना के लिए दूसरे जिलों के पुलिस बल की भी ड्यूटी लगाई गई है। इस दिन लगभग 2500 पुलिस कर्मियों की सुरक्षा व्यवस्था के बीच 733 मतदान स्थलों में लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

कलेक्टर डॉ. एसएन भूरे ने बताया कि चुनाव प्रक्रिया को शांतिपूर्वक कराने के लिए 733 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। यहां किसी भी प्रकार की कोई तकलीफ मतदान को लेकर न हो इसके लिए 2434 चुनाव अधिकारी, 81 पीठासीन एवं 75 सेक्टर अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।

मतगणना के लिए निकाय में स्थान चिन्हित कर दिया गया है। भिलाई में कल्याण कॉलेज, रिसाली में टंकी मरोदा हायर सेकंडरी स्कूल, भिलाई-चरौदा में खूबचंद बघेल महाविद्यालय एवं जामुल में हायर सेकंडरी स्कूल में मतगणना होगी। यहीं स्ट्रांग रूम भी बनाया जाएगा। इसके लिए रिटर्निंग ऑफिसर और सहायक रिटर्निंग ऑफिसर की नियुक्ति भी कर दी है। रिसाली के लिए रिटर्निंग ऑफिसर नूपुर राशि पन्ना, भिलाई में पद्मिनी भोई, भिलाई-चरौदा में एसडीएम विपुल गुप्ता और जामुल में डिप्टी कलेक्टर जागेश्वर कौशल रिटर्निंग ऑफिसर बनाया गया है। इसके साथ सहायक रिटर्निग ऑफिसर भी होंगे। जिसमें भिलाई में 5, रिसाली में 3, चरोदा में 3 और जामुल में 2 सहायक रिटर्निंग ऑफिसर होंगे।

एसएसपी बद्रीनारायण मीणा ने बताया कि 733 में से 426 मतदान केन्द्रों को संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है। जबकि 10 केन्द्र अतिसंवेदनशील के रूप में चिन्हित किए हैं। चुनाव में सुरक्षा व्यवस्था संभालने और मतदान के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने जिले से ढाई हजार से ज्यादा पुलिस बल को तैनात किया जाएगा।

error: Content is protected !!