Breaking News
.

दिल्ली दरबार: कयास ही लगा रहे हैं लोग और मीडिया भी खाली हाथ …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार को लेकर लगातार कयास जारी है। दिल्ली दरबार में भी चर्चा है कि जो विस्तार पहले होना चाहिए था अभी भी देर हो रही है। इससे जहां आम आदमी चर्चा कर रहा है वहीं मीडिया में भी कयास जारी है।

दिल्ली दरबार में भी पहले भी इस बात का जिक्र हो चुका है कि जल्द ही केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेर बदल होने वाला है लेकिन एक सच यह भी है कि बदलाव का जो तरीका इस सरकार है वह काबिलेतारीफ है। न भनक लगे न जुगाड़ और खेल भी हो जाये। इसलिए पत्रकार इस तरह की खबरें लिखते रहते हैं। एक किस्सा बताता हूं साल 2007 में एक बड़े पत्रकार ने अपने अखबार में खबर लिखा कि प्रियंका गांधी का अगले कुछ दिनों में राजनीति में पदार्पण हो रहा है। लेकिन हुआ नहीं। फिर उसी पत्रकार ने साल 2009में लिखा कि प्रियंका गांधी दक्षिण दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ेगी। वह भी संभव नहीं हुआ। लेकिन जब प्रियंका गांधी कांग्रेस महासचिव बनी तो उस पत्रकार महोदय इतने खुश हुए कि यह खबर मै 2007 में लिख दिया था कि प्रियंका गांधी राजनीति में आएगी। तो आज दिल्ली दरबार मे भी कुछ ऐसा ही चल रहा है कि मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार होगा, विस्तार होना तो तय है जब होगा तो क्रेडिट लेने की होड़ होगी कि यह खबर मैंने पहले लिखी थी। अब तय हो गया है कि 10 जुलाई से पहले मंत्रिमंडल विस्तार हो जाएगा और कयासों पर भी विराम लग जाएगा।

error: Content is protected !!