Breaking News
.

IT की रेड के बाद BJP का भूपेश सरकार पर हमला: धरमलाल कौशिक बोले- CM की देखरेख में हो रहा अवैध कारोबार ….

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में सप्ताहभर पहले पड़े आईटी की रेड के बाद सियासत गरमा गई है। भारतीय जनता पार्टी लगातार छत्तीसगढ़ सरकार पर हमला कर रही है तो वहीं प्रदेश की कांग्रेस सरकार चिटफंड कंपनियों में 6 करोड़ के घोटाले पर भारतीय जनता पार्टी व उनके नेताओं को कांग्रेस आड़े हाथों ले रही है। राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप के बीच छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक भी आगे आए हैं। बिलासपुर के प्रेस कांफ्रेंस में कौशिक ने पिछले 3 वर्षों में भूपेश सरकार द्वारा किए गए कामकाज को काले कारोबार का नाम दिया। सीएम की देखरेख में पूरा कारोबार हो रहा है। वहीं डॉ. रमन राज में हुए भ्रष्टाचार पर कौशिक जवाब देने से बचते नजर आए।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार लगातार अवैध वसूली कर रही है। भ्रष्टाचार कर रही है, जिससे जनता त्रस्त और व्यापारी पस्त हो गए है। अभी हाल में प्रदेश के 30 स्थानों पर आईटी ने रेड कार्रवाई की। उनके पास आईटी द्वारा की गई कार्रवाई के सारे दस्तावेज मौजूद है, जिसमें सरकार के नुमाइंदों के पास से मिली चल-अचल संपत्ति का ब्यौरा है। कोयले के कारोबार से जुड़े मामले में 9.5 करोड़ नकद, 5 करोड़ की ज्वेलरी सहित 200 करोड़ की अचल संपत्ति के साक्ष्य मिले हैं। धरमलाल कौशिक ने सरकार पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार आने के बाद से अब तक लगभग 1000 करोड़ की अचल संपत्ति मिलने की संभावना है। मुख्यमंत्री की देखरेख में सारा कारोबार हो रहा है।

धरमलाल कौशिक ने कहा कि जब मुखिया ही साथ हो तो किसी का कोई क्या बिगाड़ लेगा। इतना कुछ सामने आने के बाद सीएम बघेल को इस्तीफा दे देना चाहिए, ताकि राज्य बच सके। कौशिक ने सरकार के उन नुमाइंदों का नाम भी उजागर किया जिनकी देखरेख में अवैध कोयले का काम जोरों पर चल रहा है। उन्होंने राज्य के ब्यूरोक्रेट्स पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि अधिकारी भी भ्रष्टाचार में शामिल हैं। भाजपा ने भ्रष्टाचार के मुद्दे को विधानसभा में उठाया था। ऐसा नहीं है कि छत्तीसगढ़ में हो रहे भ्रष्टाचार की चर्चा आपपास हो बल्कि दिल्ली तक यह चर्चा का विषय बना हुआ है।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक एक तरफ राज्य सरकार पर गंभीर आरोप लगाते रहे, लेकिन जब उनसे 15 साल में हुए डॉ. रमन राज के भ्रष्टाचार के बारे में पूछा गया तो वह सवालों का जवाब देने से कन्नी काटते नजर आए। वहीं ईडी के दुरुपयोग के सवाल पर भी कौशिक ने कोई बयान नहीं दिया। कौशिक ने छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले को कोयले के अवैध धंधे का सबसे बड़ा हब बताया। कोयले की कमाई में हिस्सा लिया जा रहा है। 45 करोड़ में सरकार के इशारे पर एक कोलवाशरी को खरीदा गया है। आईटी को कोलवाशरी में निवेश के पुख्ता सबूत मिले हैं। जांच में और खुलासे होंगे।

 

error: Content is protected !!