Breaking News

मोदीजी हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेज दिया ? राहुल गांधी ने कहा- प्रधानमंत्री मुझे भी कराएं गिरफ्तार …

नई दिल्ली (पंकज यादव) । राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पोस्टर चिपकाए जाने और फिर पुलिस द्वारा लोगों की गिरफ्तारी के मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी हमला बोला है। उन्होंने पोस्टर में लिखी गई बातों को ट्वीट करते हुए उन्हें भी गिरफ्तार किए जाने की चुनौती दी है। मालूम हो कि दिल्ली में बीते दिनों कुछ लोगों ने पोस्टर चिपकाए थे, जिसमें प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया गया था कि बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेज दी गई? इस मामले में दिल्ली पुलिस ने कई लोगों को अरेस्ट किया था।

केरल के वायनाड से सांसद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक काले रंग के बैकग्राउंड में लिखा पोस्टर ट्वीट किया, जिसमें लिखा था, ”मोदी जी, हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेज दिया?” राहुल ने इस ट्वीट पर लिखा कि मुझे भी गिरफ्तार करो। बता दें कि राहुल गांधी पिछले लंबे समय से कोरोना वायरस और वैक्सीन को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते आए हैं।

एक दिन पहले ही राहुल गांधी ने कहा था कि केंद्र सरकार की अनर्थकारी टीका रणनीति विनाशकारी तीसरी लहर सुनिश्चित करेगी…भारत को उचित टीका रणनीति की आवश्यकता है। उन्होंने मीडिया में आईं उन खबरों की कटिंग भी लगाई थी, जिसमें दावा किया गया है कि गंगा के किनारे 1,140 किलोमीटर क्षेत्र में 2,000 से अधिक शव पाए गए हैं। कांग्रेस नेता ने कहा, ”जो कहता था गंगा ने बुलाया है, उसने मां गंगा को रुलाया है।” इससे पहले, राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को लेकर निशाना साधा था। कांग्रेस नेता ने कहा था कि उनको अपने उस गुलाबी चश्मे को उतारना चाहिए जिससे सेंट्रल विस्टा परियोजना के अलावा कुछ और नहीं दिखाई देता।

दिल्ली पुलिस ने प्रधानमंत्री मोदी की कथित तौर पर आलोचना करने वाले पोस्टर चिपकाने के मामले में 25 एफआईआर दर्ज की हैं और 25 लोगों को गिरफ्तार किया था। अधिकारियों ने शनिवार को बताया था कि ये पोस्टर शहर के कई हिस्सों में लगाए गए। इनमें लिखा था, “मोदी जी हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेज दी?” उन्होंने बताया कि गुरुवार को पुलिस को पोस्टरों के बारे में सूचना मिली जिसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों को सतर्क किया गया। शिकायतों के आधार पर दिल्ली पुलिस ने लोक सेवक द्वारा जारी आदेश की अवज्ञा करने से संबंधित भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत विभिन्न जिलों में 25 प्राथमिकी दर्ज कीं। पुलिस ने बताया कि तीन प्राथमिकर उत्तरपूर्वी दिल्ली में दर्ज की गई और वहां से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। तीन प्राथमिकी पश्चिम दिल्ली में दर्ज की गयीं और वहां से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया जबकि तीन प्राथमिकी बाहरी दिल्ली में दर्ज की गईं और वहां से तीन लोगों को हिरासत में लिया गया।

error: Content is protected !!