नई दिल्ली

पाकिस्तान के “शरीफ” नवाब शादियों के हैं ‘सरताज’… जिन्होंने अपनी दूसरी बेगम से मिलने से लिए बनवा दिया था पुल …

नई दिल्ली। पाकिस्तान में इमरान खान की बेदखली के साथ ही शहबाज शरीफ की वापसी हो चुकी है। शहबाज शरीफ की निजी जिंदगी के बारे में बात करें तो उनके बड़े भाई नवाज शरीफ देश के 3 बार वजीर-ए–आजम रह चुके हैं। शहबाज को देश की सत्ता संभालने का पहली बार मौका मिल रहा है। शहबाज राजनीति में माइक तोड़ नेता और निजी जिंदगी से जुड़े कई किस्सों में भी मशहूर हैं।

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ राजनीति में माइक तोड़ राजनेता के अलावा अपनी निजी जिंदगी में भी काफी लोकप्रिय हैं। उनकी निजी जिंदगी से जुड़ा एक किस्सा है। उसका नाम है- हनी पुल। अब तक कुल 5 शादियां कर चुके शहबाज शरीफ ने लाहौर में इस पुल का निर्माण सिर्फ इसलिए करवाया ताकि उन्हें अपने ऑफिस से दूसरी बेगम के घर पहुंचने में देरी न हो। उनकी दूसरी बेगम यानि पत्नी का नाम आलिया हनी था तो इस पुल को हनी पुल कहते हैं। उस वक्त शरीफ पाकिस्तान के पंजाब की सत्ता संभाल रहे थे।

शहबाज शरीफ ने कुल पांच शादियां की है। पहली शादी उन्होंने पारिवारिक विद्रोह के बाद की थी। खबरें थी कि पिता की मंजूरी नहीं मिलने के बाद भी शरीफ ने 1973 में 23 साल की उम्र में नुसरत शहबाज से शादी की थी। नुसरत उनकी कजिन सिस्टर थी।

नुसरत की मौत के बाद शहबाज शरीफ ने 1993 में आलिया हनी नाम की मॉडल से शादी की थी। उस वक्त शहबाज की उम्र 43 साल थी। लाहौर में बना हनी ब्रिज आलिया के नाम से काफी विख्यात है। यह पुल तब बनाया गया था जब शरीफ पंजाब की सत्ता संभाल रहे थे। शहबाज के 2 लड़के और 3 लड़कियां नुसरत शहबाज से हैं। जबिक आलिया से उन्हें एक बेटी है।

कई लोगों का कहना है कि इस पुल का निर्माण सिर्फ इसलिए किया गया था ताकि अपने कार्यालय से आलिया हनी के घर पहुंचने में शरीफ को देरी न हो। यह घुड़सवार पुल इसलिए हनी पुल के नाम से भी जाना जाता है। नुसरत और आलिया हनी के अलावा शहबाज की अन्य तीन पत्नियों के नाम तेहमिना दुर्रानी, निलोफर खोसा और कुसलूम है।

Related Articles

Back to top button