नई दिल्ली

दो साल से अंकिता सिंह को परेशान कर रहा था शाहरुख खान, तंग आकर स्कूल जाना छोड़ा; आरोपी के बड़े भाई ने मांगी थी माफी …

नई दिल्ली। अंकिता सिंह का हत्यारोपी शाहरुख खान उससे एकतरफा प्यार करता था। शाहरुख खान करीब दो साल से अंकिता सिंह के पीछे पड़ा था। अपनी मृत्यु से पांच दिन पहले फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कार्यपालक दंडाधिकारी को दिए बयान में अंकिता सिंह ने कहा था कि उसकी एक सहेली से शाहरुख खान ने मेरा मोबाइल नंबर ले लिया था और अक्सर फोन कर दोस्ती का दबाव बनाता था। जबकि अंकिता सिंह उससे बात करना भी पसंद नहीं करती थी।

वह न केवल बार-बार फोन कर अकिता को परेशान करता था बल्कि स्कूल जाने के रास्ते में पीछा कर छेड़खानी करने का प्रयास करता था। अंकिता सिंह को तंग आ कर स्कूल जाना बंद करना पड़ा था। ट्यूशन भी पिता के साथ जाना पड़ता था। शाहरुख खान ने अंकिता सिंह के घर पर पत्थरबाजी भी की थी। वह उसके घर में घुस जाता था। इस पर लोगों ने एक बार चोर कह कर पिटाई भी की थी। इसके बाद भी उसका हौसला पस्त नहीं हुआ।

एक दिन आरोपी ने अंकिता सिंह के घर के दरवाजे पर लगे ग्रिल को लोहे के खंती से उखाड़ने का प्रयास किया था। अंकिता सिंह के पिता ने बताया कि शुरु में लोक लाज के भय से थाना नहीं गए पर जब शाहरुख खान की हरकत बढ़ गई तो एक बार वे थाना जाने लगे तो शाहरुख खान के बड़े भाई ने माफी मांग कर थाना जाने से मना कर दिया था। शाहरुख खान की हरकत में सुधार नहीं हुआ। हाल के दिनों में डिजनीलैंड मेला देखने भी अंकिता सिंह शाहरुख खान के खौफ के कारण पिता के साथ गई थी।

अंकिता सिंह के पिता संजीव सिंह एक किराना व्यवसायी की दुकान में काम करते हैं। आर्थिक तंगी के बावजूद वे अंकिता सिंह और उसके भाई को अच्छी तालीम देना चाहते थे। अंकिता सिंह भी पढ़ने में ठीक थी। अंकिता सिंह की मां का एक साल पहले कैंसर से निधन हो चुका है। अब अंकिता सिंह की मौत से संजीव सिंह टूट गए हैं। दो बेटियों में एक बेटी की शादी हो चुकी है। दूसरे नम्बर पर अंकिता सिंह थी। बेटा 12 साल का है। घर में अंकिता सिंह के दादा-दादी भी हैं।

Related Articles

Back to top button