मध्य प्रदेश

एमपी में राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का कार्यक्रम बदला, 21 और 22 नवम्बर को गुजरात में प्रचार करेंगे राहुल …

भोपाल। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा से ब्रेक लेकर राहुल गांधी गुजरात में पार्टी के लिए प्रचार करेंगे. इस वजह से मध्यप्रदेश में राहुल गांधी की यात्रा के तय कार्यक्रम में तब्दीली की जा रही है. अभी मिली जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी 21 और 22 नवम्बर को गुजरात मे प्रचार करेंगे. बीजेपी नेता कई दिनों से राहुल गांधी के गुजरात चुनाव से दूरी को मुद्दा बनाये हुए थे. अब पार्टी ने बीजेपी के आक्रमण को भोथरा करने के लिए यह योजना बनाई है.

पार्टी सूत्रों का कहना है कि महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में प्रवेश के बाद राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में ब्रेक लगेगा.  इसकी पुष्टि नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने की है. हालांकि, पहले यात्रा का एमपी में एक दिन का ब्रेक निश्चित था. मध्य प्रदेश में यात्रा का 20 की रात आकर 21 को विश्राम का दिन था. उसे अब दो दिन बढ़ा दिया गया है. 21 और 22 नवम्बर को विश्राम के बाद 23 नवम्बर से यात्रा मध्य प्रदेश में फिर शुरू होगी. 21 और 22 नवम्बर को राहुल गांधी गुजरात में चुनावी दौरे पर रहेंगे. पार्टी सूत्रों का कहना है कि बुधवार को महाराष्ट्र के मालेगांव में दोपहर 1 बजे बड़े कांग्रेस नेताओं की बैठक होगी. यहां राहुल गांधी की यात्रा और गुजरात चुनाव प्रचार का पूरा शेड्यूल तय होगा.

मध्यप्रदेश में 21-22 को ब्रेक के बाद बुरहानपुर से यात्रा 23 नवंबर से फिर शुरू होगी। तारीखों में बदलाव के चलते राहुल गांधी की ये यात्रा अब 28 नवंबर को इंदौर में पहुंचेगी। यहां वे राजबाड़ा और बड़ा गणपति मंदिर तक जाएंगे। इसके बाद राहुल गांधी खालसा कॉलेज में नाइट स्टे करेंगे। उज्जैन में सभा 1 दिसंबर को होगी, स्थान भी तय हो गया है। खास बात यह है कि इसके बाद इंदौर आने पर 29 नवंबर को एक दिन का ब्रेक रहेगा और फिर 30 नवंबर को यात्रा बड़ा गणपति चौराहे से शुरू होगी। यह अधिकृत जानकारी मप्र में भारत जोड़ो यात्रा के प्रभारी पीसी शर्मा ने दी।

यहां बता दे कि गुजरात में दो चरणों में विधानसभा चुनाव होना है. वहीं, कांग्रेस राहुल गांधी देशभर में 3570 किलोमीटर लंबी भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं. हिमाचल प्रदेश में चुनाव प्रचार न करने को लेकर राहुल गांधी लगातार बीजेपी नेताओं के निशाने पर थे. हालांकि, हिमाचल में प्रियंका गांधी समेत तमाम बड़े कांग्रेसी नेताओं ने कमान संभाल रखी थी. अब राहुल गांधी के गुजरात चुनाव से दूरी को लेकर भी बीजेपी नेता कई दिनों से मुद्दा बनाये हुए थे. अब पार्टी ने बीजेपी के आक्रमण को भोथरा करने के लिए यह योजना बनाई है. इसी के चलते राहुल गांधी ने गुजरात में चुनाव प्रचार करने का फैसला किया है.

सोमवार को पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह के बंगले पर नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने मीटिंग की। इसमें भारत जोड़ो यात्रा के मप्र पड़ाव में हो रहे बदलावों और अलग-अलग जिलों से आ रही उपयात्राओं को लेकर भी चर्चा हुई। नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने बताया कि यात्रा में कुछ ब्रेक हुआ है, क्योंकि उन्हें गुजरात चुनाव प्रचार में जाना है। मालेगांव में होने वाली बैठक में यात्रा में होने वाले परिवर्तन् को लेकर चर्चा होगी। गुजरात कांग्रेस कमेटी राहुल गांधी को चुनाव प्रचार में भेजने की मांग कर रही है। मप्र में जहां यात्रा विराम करेगी, वहीं से फिर शुरुआत होगी।

भारत जोड़ो यात्रा के समन्वयक और सांसद दिग्विजय सिंह सोमवार रात को इंदौर पहुंचे। वे मंगलवार को इंदौर में ही रहेंगे। इस दौरान वे भारत जोड़ो यात्रा के मप्र में गुजरने वाले सभी स्थानों के प्रभारियों के साथ बैठक लेंगे। बैठक के बाद वे दोपहर में इंदौर से मालेगांव के लिए रवाना हो जाएंगे।

कल बुधवार को महाराष्ट्र के मालेगांव में कांग्रेस के नेताओं की बैठक होगी। इसमें शामिल होने के लिए मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविन्द सिंह, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह राहुल, सुरेश पचौरी एवं अन्य नेता जाएंगे।

Related Articles

Back to top button