नई दिल्ली

टिकटॉक से बंद हुई मुफ्त की कमाई तो शुरू कर दी लूटपाट, साथियों संग 3 बदमाश गिरफ्तार …

गुरुग्राम। बिना मेहनत मुफ्त की खाने वालों के लिए टिकटॉक बंद होना किसी सदमें से कम नहीं है। वहीं ज्यादातर इससे बाहर निकल गए  जबकि कुछेक मुफ्त में खाने का आदत नहीं छोड़ पाए। जिससे वे कम मेहनत में पैसा कमाने का रास्ता खोजा और लूट पाट करने लगें। पुलिस ने ऐसे तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

गुरुग्राम के सेक्टर-57 में बुजुर्ग महिला को बंधक बनाकर डकैती को अंजाम देने के आरोप में सिकंदरपुर अपराध शाखा की टीम ने तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया। बदमाशों से पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल की गई रॉड बरामद की है। बदमाशों को गुरुवार कोर्ट में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। पुलिस की पूछताछ में एक आरोपी ने बताया कि पहले वह टिकटॉक पर वीडियो बनाकर अच्छी कमाई करता था।

टिकटॉक के बंद होने के बाद उसने लूटपाट करना शुरू कर दिया। एसीपी प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि वारदात के 30 घंटे के अंदर ही अपराध शाखा ने तीन बदमाशों को गांव उल्लावास से गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान मोहम्मद अंजार, नजीमुल उर्फ साजन व हासिम अंसारी के रूप में हुई। इस वारदात में शामिल अन्य बदमाशों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।

दो अगस्त तड़के साढ़े तीन बजे के लगभग नकाबपोश चार बदमाश सेक्टर-57 स्थित एक मकान में पीछे के दरवाजे से घुसे और बुजुर्ग महिला को बंधक बनाया। मुंह पर कपड़ा बांध दिया। शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। घर से आरोपी महिला के दो सोने के कड़े और एक मोबाइल लूटकर फरार हो गए।

वहीं, पुलिस फरार आरोपियों को पकड़ने में जुटी हुई है। पुलिस का कहना है कि पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की जाएगी। साथ ही इसी तरह की लूट के मामलों का रिकॉर्ड भी खंगाला जाएगा और पता लगाया जाएगा कि कहीं इन घटनाओं में इन आरोपियों का हाथ तो नहीं। पुलिस का कहना है कि पूछताछ में अन्य फरार आरोपियों के ठिकाने की जानकारी भी हासिल की जाएगी।

एसीपी प्रीतपाल सांगवान ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि मोहम्मद अंजार और हासिम अंसारी ने बुजुर्ग दंपति के घर पर नवीनीकरण में मजदूरी का काम किया था। मजदूरी मांगने पर बुजुर्ग दंपति हर दिन दो हजार का नोट देते थे। ऐसे में उनको लगा कि इनके पास बहुत रुपये हैं। दोनों बुजुर्ग हैं और घर पर अकेले ही रहते हैं। ऐसे में दोनों ने लूटपाट की साजिश रची।

अंसारी ने मुंबई में अपने दोस्त नजीमुल उर्फ साजन को फोन कर गुरुग्राम में लूटपाट के लिए बुलाया। नजीमुल अपने साथ सैफुल और सलमान उर्फ अशरफ को भी लेकर आया। दो अगस्त तड़के साढ़े तीन बजे चार बदमाश लोहे की रॉड और पेचकस लेकर सेक्टर-57 स्थित बुजुर्ग दंपत्ति के घर पर पिछले दरवाजे से घर के अंदर प्रवेश किया, जबकि घर के बाहर अंसारी निगरानी कर रहा था। घर में बुजुर्ग महिला को बंधक बनाकर सोने के कड़े और मोबाइल फोन लूटकर फरार हो गए।

Related Articles

Back to top button