वैक्सीनेशन को लेकर को-विन पर बड़ा बदलाव, अब मिलेगा चार डिजिट का सिक्योरिटी कोड …

नई दिल्ली। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश में तेजी से वैक्सीनेशन अभियान चल रहा है। करोड़ों लोगों को अब तक वैक्सीन लगाई जा चुकी है, जबकि बड़ी संख्या में नए रजिस्ट्रेशन हो रहे हैं। इस बीच, कई शिकायतें मिलने के बाद केंद्र सरकार ने को-विन पर बड़ा बदलाव किया है। आठ मई से को-विन पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले को चार डिजिट का सिक्योरिटी कोड दिया जाएगा, जिसे उन्हें वैक्सीन लगाने के लिए जाने के समय देना होगा। सरकार ने माना है कि कई लोगों ने जिन्होंने वैक्सीनेशन के लिए स्लॉट्स बुक करवाए थे, उन्हें वैक्सीनेटेड दिखाया जा रहा था। इसी के चलते सरकार ने सिक्योरिटी फीचर लॉन्च किया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए बुकिंग करते समय लोगों को cowin.gov.in वेबसाइट पर एक चार डिजिट सिक्योरिटी कोड मिलेगा। इसके बाद जब आप इस कोड को वैक्सीनेशन सेंटर पर देंगे तो इसे आप अपने डिजिटिल सर्टिफिकेट भी देख सकेंगे। यह फीचर लोगों की उन शिकायतों के बाद जोड़ा गया है, जिसमें कहा जा रहा था कि उन्हें अभी एक भी डोज नहीं लगी, लेकिन उनके पास मैसेज आ गया है कि एक डोज लगाई जा चुकी है। इन लोगों ने सिर्फ को-विन पर अपना रजिस्ट्रेशन ही करवाया था। मंत्रालय ने बताया कि इससे यह सुनिश्चित होगा कि जिसने भी ऑनलाइन वैक्सीनेशन का अप्वाइंटमेंट लिया है, उसका टीका स्टेटस सही तरीके से भरा जाए। यह सिर्फ ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट लेने वालों के लिए ही है।”

वैक्सीनेटर के नाम से पहचाने जाने वाले इस सिक्योरिटी कोड को स्लिप पर भी प्रिंट किया जाएगा। वहीं, वैक्सीन लगाए जाने से पहले चार डिजिट का सिक्योरिटी कोड भी पूछा जाएगा। मंत्रालय ने यह सलाह दी है कि व्यक्ति जब भी टीका लगवाने जाए तो अपने साथ अप्वाइंटमेंट लेटर की डिजिटिल या फिर प्रिंटेड कॉपी भी ले जाए, जिससे सिक्योरिटी कोड को पता करने में कोई मुश्किल नहीं आए। बता दें कि एक मई से तीसरे फेज का वैक्सीनेशन अभियान शुरू हुआ था, जिसके तहत 18-44 साल की आयु के लोग टीका लगवा सकते हैं। हालांकि, इन लोगों को ऑनलाइन ही बुकिंग करवानी है।

जानिए, को-विन पर कैसे करवाएं अपना रजिस्ट्रेशन

-को-विन कोई मोबाइल ऐप नहीं है। रजिस्ट्रेशन वेबसाइट या फिर आरोग्य सेतु ऐप से करवाया जा सकता है।

-मोबाइल नंबर से को-विन पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। आपके मोबाइल पर ओटीपी जाएगा, जिसे आपको डालना होगा।

-रजिस्ट्रेशन के दौरान आपको यह भी भरना होगा कि आप कौन सा आईडी कार्ड इस्तेमाल करेंगे। यह आईडी आपको वैकसीनेशन करवाने के समय भी ले जाना होगा।

– इसके बाद आपको कई तरह की बुकिंग स्लॉट्स दिखाई देंगे। इसमें से जिस दिन आपको वैक्सीन लगवानी है या फिर वह उपलब्ध होगी, आप उसे चुन सकते हैं। लोग प्राइवेट और सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन लगवा सकते हैं।

– वैक्सीनेशन स्लॉट पर बुकिंग पूरी हो जाने के बाद आपको चार डिजिट का सिक्योरिटी कोड दिया जाएगा।

error: Content is protected !!