मध्य प्रदेश

संगठन में रुचि नहीं रखने पर युवा कांग्रेस के 3 सचिव सहित 19 विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष हटाए

बूथ जोड़ो-यूथ जोड़ो अभियान के अलावा संगठन के अन्य कार्यक्रमों के प्रति नहीं दिखा रहे थे रुचि

भोपाल। मध्य प्रदेश में नवंबर में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी कांग्रेस निष्क्रिय पदाधिकारियों को हटा रही है। इसकी शुरुआत सहयोगी संगठन युवा कांग्रेस द्वारा कर दी गई है। संगठन ने 3 प्रदेश सचिव, एक जिला अध्यक्ष और 19 विधानसभा क्षेत्र अध्यक्षों को पद से हटा दिया है। इनके स्थान पर जल्द ही नई नियुक्तियां की जाएंगी।

इस संबंध में प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. विक्रांत भूरिया ने बताया कि संगठन नवंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटा है। विधानसभा अध्यक्षों को बूथ जोड़ो यूथ जोड़ो अभियान संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं। इसमें विधानसभा के प्रत्येक मतदान केंद्र पर युवाओं की टीम तैयार करनी है। साथ ही महंगाई और बेरोजगारी को लेकर आंदोलन करने के लिए भी कहा गया है। पिछले दिनों संगठन पदाधिकारियों की गतिविधियों की समीक्षा की गई थी। इसमें तीन प्रदेश सचिव, एक जिला अध्यक्ष (बैतूल) और 19 विधानसभा क्षेत्र अध्यक्षों को निष्क्रिय पाया गया। ये पदाधिकारी बूथ जोड़ो-यूथ जोड़ो अभियान से लेकर अन्य गतिविधियों में रुचि नहीं दिखा रहे थे। इस आधार पर इन्हें कार्यमुक्त कर दिया गया है।

इन पदाधिकारियों को हटाया

प्रदेश सचिव- हिफ्जुर्रहमान खान, अजय राय और चंद्रकांत शर्मा। जिला अध्यक्ष – गौरव खातरकर।विधानसभा अध्यक्ष- प्रवीण कुमार जैन अटेर, संदीप तिवारी बैहर, जितेन्द्र महुले परसवाड़ा, दीपक प्रजापति बंडा, अनिमेष सेंधिया रहली, अफजल खान दमोह, अंकुर जैन जबेरा, राहुल पटेल हटा, महेंद्र नायक महाराजपुर, दिनेश चौरसिया बिजावर, अरविंद रावत बड़ा मलहरा, जुगलकिशोर वर्मा जतारा, राजपाल सिंह पवई, नसीम कुरैशी केवलारी, राकेश डामोर पेटलावद, अजय कुमार चंदेल सिंगरौली, सुनील कुमार जायसवाल चितरंगी, आदर्श चतुर्वेदी सिहावल और नारायण सिंह चौहान सीधी।

Related Articles

Back to top button