Breaking News
.

जब पेड़ से नोटों की बारिश शुरू हो गई, ट्रैफिक जाम में फंसे शख्स का 1 लाख रुपये ले भागा बंदर…

दमोह। मध्य प्रदेश  के दमोह में एक बंदर के उत्पात ने एक शख्स के होश उड़ा दिए. ट्रैफिक जाम को देखने शख्स ऑटो से नीचे उतरा. इतने में बंदर पहुंचा और ऑटो की सीट पर रखी उसकी पोटली लेकर भाग गया, पोटली में शख्स ने 1 लाख रुपये रखे थे. पोटली लेकर भागते बंदर को शख्स ने पकड़ने की कोशिश की तो बंदर पेड़ पर चढ़ गया. पेड़ से उसने नोटों की बारिश करनी शुरू कर दी. किसी तरह शख्स ने एक-एक कर नोट बंटोरे. इस घटना की क्षेत्र में खूब चर्चा हो रही है. मामला पुलिस तक भी पहुंचा है.

 

दमोह एसपी डीआर तेनिवार ने बंदर के उत्पात के संबंध में बताया कि मामला जबेरा थाना की सिग्रामपुर चौकी क्षेत्र का है. यहां बीते रविवार को एक बंदर 1 लाख रुपयों की पोटली लेकर पेड़ पर चढ़ गया. इसके बाद बंदर ने पेड़ से नोटों की बारिश शुरू कर दी. पेड़ से नोट गिरता देख वहां अफरा-तफरी मच गई. लोग नोट बीनने शुरू कर दिए.

 

44 हजार रुपये नहीं मिले

एसपी के पुताबिक पुलिस ने शख्स के 56 हजार रुपए वापस करा दिए हैं, लेकिन 44 हजार रुपए लोग बीनकर भाग गए. पुलिस के मुताबिक सिग्रामपुर चौकी के पास कटनी-मंझौली सड़क मार्ग पर बीते रविवार को लंबा ट्रैफिक जाम लगा था. एक ऑटो रिक्शा में बैठे कटंगी निवासी मोहम्मद अली के पास एक लाख रुपए थे, जो उसने एक तौलिए में लपेट कर पोटली बना कर सीट पर रखे थे. जाम की स्थिति देखने के लिए अली ऑटो से नीचे उतरा. इसी दौरान भोजन की तलाश में घूम रहा एक बंदर ऑटो की सीट से 1 लाख रुपयों से भरी पोटली लेकर भाग गया. इसके बाद पेड़ से नोटों की बारिश शुरू कर दी.

 

पुलिस ने पकड़ा

सूचना मिलने पर सिग्रामपुर चौकी पुलिस स्टाफ ने मौके पर पहुंचकर पेड़ से गिरे नोटों को बटोरने वालों को पकड़ा. कुछ लोग भाग गए थे उन्हें भी बुलवाया गया. इन सभी से नोट वापस लिए, लेकिन 1 लाख में से मात्र 56 हजार ही वापस मिल सका है. करीब 44 हजार रुपए अब तक नहीं मिले हैं. फरियादी मोहम्मद अली के आवेदन पर पुलिस मामले की जांच में और बाकी लोगों की तलाश में जुटी है.

error: Content is protected !!