Breaking News
.

रैगांव सीट पर बीजेपी में बगावत : पुष्पराज बागरी ने भरा निर्दलीय पर्चा…

सतना। सतना की रैगांव विधानसभा सीट पर क्या दमोह जैसा हाल होने वाला है. यहां बीजेपी में बगावत होती दिख रही है. इस सीट पर उप चुनाव के लिए दिवंगत विधायक स्व. जुगल किशोर बागरी के बेटे पुष्पराज बागरी ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया. उन्होंने निर्दलीय के तौर पर पर्चा भरा. बागरी के दोनों बेटे टिकट के प्रबल दावेदार थे. बड़े बेटे पुष्पराज अपने लिए और छोटा बेटा देवराज अपनी पत्नी के लिए टिकट मांग रहे थे, लेकिन पार्टी ने दोनों के बजाए तीसरी कैंडिडेट प्रमिला बागरी को अपना उम्मीदवार बना दिया.

 

रैगांव सीट पर इसी महीने 30 अक्टूबर को उप चुनाव होना है. ये सीट बीजेपी विधायक जुगलकिशोर बागरी के निधन के कारण खाली हुई है. उनका कोरोना के काऱण निधन हो गया था. यहां उप चुनाव होना तय था. तभी से उनके दोनों बेटों ने टिकट के लिए दावेदारी और लॉबिंग शुरू कर दी थी.

 

बागरी परिवार हुआ एकजुट

रैगांव विधानसभा सीट के लिए हुए टिकट वितरण ने बागरी परिवार को एक कर दिया है. लेकिन, बीजेपी में बगावत के सुर दिख रहे हैं. बीजेपी विधायक जुगुल किशोर बागरी के निधन के बाद से उनके बड़े बेटे पुष्पराज और छोटे बेटे देवराज अपनी पत्नी सविता के लिए टिकट का दावा कर रहे थे. लेकिन, पार्टी ने टिकट दे दिया प्रतिमा बागरी को. परिवार के हाथ से टिकट निकलने पर स्व. जुगल किशोर बागरी के दोनों बेटे पार्टी के खिलाफ एक हो गए हैं. गुरुवार को बागरी बंधु नामांकन पत्र लेने पहुंचे थे और आज शुक्रवार को पुष्पराज ने निर्दलीय के तौर पर पर्चा भर भी दिया. इससे लगता है पार्टी में सब कुछ ठीक नहीं है.

 

समर्थकों की भारी भीड़ जुटाकर किया शक्ति प्रदर्शन

पुष्पराज बागरी के साथ उनका छोटा भाई देवराज सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ जिला निर्वाचन कार्यालय पहुंचा और पर्चा दाखिल कर दिया.

error: Content is protected !!