Breaking News
.

गांव के गरीब किसानों का शिविर में करें तत्काल समाधान : कलेक्टर सारांश मित्तर

बिलासपुर । कलेक्टर डॉ. सारांश मित्तर ने आज जिला स्तरीय अधिकारियों की समय-सीमा की बैठक ली। डॉ. मित्तर ने ग्रामीण क्षेत्रों में व्याप्त समस्याओं की जानकारी नोडल अधिकारियों से ली। नोडल अधिकारियों ने बताया कि शिविर के माध्यम राशनकार्ड, पेयजल, बिजली तथा पेंशन आदि से संबंधित ज्यादा आवेदन आ रहे हैं। कलेक्टर डॉ. मित्तर ने इन समस्याओं को चिन्हांकित कर तत्काल समाधान के निर्देश संबंधित अधिकारियो को दिए।  डॉ. मित्तर ने अभियान चलाकर पेंशन के लंबित प्रकरणों का तत्काल निराकरण करने के भी निर्देश सम्बंधित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि गांव के गरीबों और किसानों की बुनियादी समस्याओं का समाधान कर ही, सही मायने में उन्हें विकास से जोड़ा जा सकता है।

डॉ. मित्तर ने जिले के स्वामी आत्मानंद स्कूलों की प्रगति की भी जानकारी ली। उन्होंने मस्तूरी, कोटा, तखतपुर तथा चकरभाटा के स्कूलों में जरूरी व्यवस्थाएं समय-सीमा में पूरा करने के निर्देश सम्बंधित अधिकारियों को दिये। डॉ.मित्तर ने  जिले में कल से शुरू हो किसान मेले की तैयारियों के संबंध में भी जानकारी ली। उन्होंने मेले में आवागमन, पेयजल, बैठक व्यवस्था तथा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दौरे को लेकर अन्य जरूरी व्यवस्थाएं तत्काल सुनिश्चित करने के निर्देश  संबंधित अधिकारियों को दिए।

कलेक्टर डॉ. मित्तर ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जिले में आगामी प्रस्तावित दौरे को लेेकर विभागों के काम-काज की गहन समीक्षा की। उन्होंने  कहा कि जिले के सभी ग्राम पंचायतों में  ग्राम पंचायत सचिव, पटवारी, आर.ई.ओ, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मैदानी स्तर के कर्मचारी मौके पर ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करें और जिला स्तरीय अधिकारी इसकी निगरानी कर  रिपोर्ट सौंपे की ताकि मूलभूत समस्याओं की जानकारी मिल सके और उसका समाधान हो सके। मंथन सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक में कलेक्टर डॉ. मित्तर ने राजस्व प्रकरणों की भी समीक्षा की। उन्होंने विवादित और अविवादित नामांतरण, बँटवारे, सीमांकन तथा अन्य राजस्व सम्बन्धी मामलों को समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश सम्बंधित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि पटवारियों को अपने हल्के में अनिवार्य रूप से रहकर ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करना है।

     डॉ. मित्तर ने  गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल की उचित व्यवस्था करने के निर्देश लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की अधिकारियों  को दिए। उन्होंने जल जीवन मिशन के कार्याे में तेजी लाने, हैंडपंपो का संधारण, पाईपलाईन विस्तार सहित सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके अलावा बैठक में गोधन न्याय योजना,धान के बदले अन्य फसलों को प्रोत्साहन योजना, वर्मी कम्पोस्ट की बिक्री, सामुदायिक बाड़ी योजना सहित अन्य योजनाओं की विस्तार से समीक्षा हुई। बैठक में जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी हरिस एस, ए.डी.एम श्रीमती जयश्री जैन सहित सभी एसडीएम एवं विभागीय अधिकारी मौजूद रहें। 

error: Content is protected !!