Breaking News
.

दीपका नगर पालिका अध्यक्ष संतोषी दीवान ने वन रक्षक को दी अंजाम भुगने की धमकी, अध्यक्ष समेत 15 लोगों पर जुर्म दर्ज

कोरबा (गेंदलाल शुक्ल) । वन विभाग की जमीन पर खोदाई एवं अवैध कब्जा की सूचना पर अवलोकन करने एवं कार्य रोकने के लिए पहुंची वन रक्षक के साथ अभद्रता करते हुए दीपका नगर पालिका अध्यक्ष संतोषी दीवान एवं अन्य लोगों ने अंजाम भुगतने और तरह-तरह की धमकियां दी। पुलिस ने वन रक्षक की रिपोर्ट पर पालिका अध्यक्ष समेत 15 लोगों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। इस कार्रवाई को लेकर नगर पालिका दीपका क्षेत्र सहित जिले में सरगर्मी है।

जानकारी के अनुसार कटघोरा वनमंडल अंतर्गत दीपका सर्किल में कुमारी उर्मिला देवी राज पिता स्व. बालसिंह वन रक्षक कार्यरत है। दीपका सर्किल अंतर्गत व नगर पालिका दीपका के वार्ड क्र. 2 ज्योतिनगर में 13 जून को सुबह करीब 6 बजे वन भूमि पर जेसीबी द्वारा अवैध खोदाई करने की सूचना उर्मिला देवी को मिली थी।

सूचना पर तस्दीक करने वह सुबह 6.30 बजे ज्योतिनगर पहुंची जहां श्मशानघाट के आगे जेसीबी द्वारा अवैध खोदाई करते पाया गया। वन भूमि दीपका के ओए/787 में वन भूमि पर कब्जा करने हेतु खोदे जा रहे गड्ढा के संबंध में चौकीदार बालेश्वर सिंह पिता रामप्रसाद के साथ पहुंचकर उर्मिला ने जेसीबी के चालक से सवाल-जवाब किया। इस दौरान जेसीबी लेकर चालक भाग गया।

उर्मिला ने बताया कि थोड़ी देर में नगर पालिका अध्यक्ष संतोषी दीवान, उत्तम दुबे, संतोष सिंह और अन्य 10-15 लोग वहां पहुंचे और आक्रोश पूर्वक उसे जान से मारने की धमकी दिए और गाड़ी को काम करने से रोकने की हिम्मत कैसे हुई कहकर ट्रांसफर करा देने की धमकी दी। 10-15 लोगों को खड़े कर घूस लेने का झूठा केस बना देने की भी धमकी देकर वहां से भाग जाने नहीं तो अंजाम भुगतने की चेतावनी दी गई।

उर्मिला ने अपने अधिकारियों से विचार-विमर्श पश्चात इसकी रिपोर्ट आज दीपका थाना में दर्ज कराई। पुलिस ने नगर पालिका अध्यक्ष संतोषी दीवान, उत्तम दुबे, संतोष सिंह व अन्य 10-15 लोगों के विरुद्ध धारा 186, 506, 34 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना प्रारंभ की है। नगर पालिका अध्यक्ष एवं उनके सहयोगियों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध होने के इस मामले ने दीपका की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है।

कोरबा / दीपका के नगर पालिका अध्यक्ष सहित उनके समर्थकों के खिलाफ दीपका पुलिस ने एक दिन पहले ही मामला पंजीबद्ध किया था। मामला पंजीबद्ध होते ही दीपिका का माहौल गरम हो गया है। बुधवार की सुबह दीपका नगर पालिका के अध्यक्ष के समर्थन में दर्जनों कार्यकर्ता दीपका थाना जा पहुंचे और थाने का घेराव कर धरनी पर बैठ गए है। ज्ञात रहे कि एक वन कर्मी की शिकायत पर दीपका पुलिस ने दर्जनों लोगों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया।

error: Content is protected !!