मध्य प्रदेश

दो चचेरे भाई रक्षाबंधन पर बहन को मुंबई से घर लाए और 7 दिनों तक करते रहे रेप, लड़की की मौत, एक गिरफ्तार, दूसरा भाई फरार …

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है. यहां दो चचेरे भाइयों ने रक्षाबंधन पर मुंबई की नाबालिग बहन के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं. दोनों आरोपियों ने बंधक बनाकर न केवल उसके साथ लगातार 7 दिनों तक बलात्कार किया, बल्कि उसे जबरदस्त पीटा भी. इलाज के दौरान उसकी मौत होने पर उसका शव भी दफना दिया।

भाइयों की हैवानियत के कारण जब उसकी तबियत खराब हुई तो चुपचाप उसे मेडिकल अस्पताल में भी भर्ती करवा दिया. यहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया तो उसका पोस्टमॉर्टम करवाकर दफना भी दिया. चूंकि, बेटी दोनो भाइयों की हैवानियत पिता को बता चुकी थी, इस वजह से उनकी शिकायत के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. दूसरे आरोपी की तलाश जारी है. चचेरे भाइयों की हैवानियत और वहशीपन की सारी हदें पार करने वाली यह घटना जिसने भी सुनी, उसका दिल दहल गया।

एएसपी प्रदीप शेंडे ने बताया कि सूरज और आकाश दो सगे भाई हैं. सूरज और उसकी दादी नाबालिग लड़की को रक्षाबंधन पर मुंबई से लेकर जबलपुर आए थे. दोनों ने आते ही अपनी चचेरी बहन के साथ गलत काम किया, उसे मारा और जब इलाज के दौरान मौत हो गई तो दफना भी दिया. युवती के पिता ने यहां आकर शिकायत की तो जांच करने पर आरोप सही साबित हुए. पुलिस ने छोटे भाई सूरज को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि, बड़ा भाई आकाश अभी फरार है. एएसपी शेंडे ने बताया कि सूरज और आकाश अपनी दादी के साथ भी दुष्कर्म कर चुके हैं. आरोपी का मेडिकल कराया गया है. दूसरा आरोपी जल्द गिरफ्तार होगा.

इस मामले को लेकर लड़की के पिता ने बताया कि रक्षाबंधन के दिन मेरी मां और भतीजे बेटी को लेकर मुंबई आए. एक दिन बेटी ने फोन किया कि दोनों भाई उसके साथ गलत कर रहे हैं और बहुत मारते हैं. मुझे लेने आ जाओ. लेकिन, जब तक मैं पहुंचता दोनों उसे मार चुके थे. मैंने एसपी ऑफिस में शिकायत की. नाबालिग लड़की के पिता ने एसपी से इस मामले की गहराई से जांच करने की मांग की. उनकी शिकायत के बाद पुलिस ने मामले की जांच की और सूरज को हिरासत में ले लिया. कड़ी पूछताछ में सूरज टूट गया और हत्या का राज खोल दिया.

Related Articles

Back to top button