Uncategorized

एलआईसी अफसरों और बिल्डर की मिलीभगत से करोड़ों का घोटाला, 11 पर ईओडब्ल्यू में केस दर्ज

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एलआईसी अफसरों और बिल्डर की सांठगांठ से राज्य में बैंक से करोड़ों का घोटाला करने का मामला सामने आया है। बैंक से करोड़ों की धोखाधड़ी करने के मामले में जांच के बाद ईओडब्ल्यू ने 11 लोगों को आरोपी बनाते हुए उनके खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है।
ईओडब्ल्यू की जांच में खुलासा हुआ है कि बिल्डर और एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस कंपनी के अधिकारियों ने मिलकर बैंक के साथ करोड़ों की धोखाधड़ी को अंजाम दिया है। अब तक की जांच में सामने आया है कि आरोपियों द्वारा आम लोगों को डायरेक्टर हेल्थ, आर्मी और बीएचईएल के अधिकारी बनाकर बैंक से 1 करोड़ 89 लाख रुपए का लोन लिया गया है। एलआईसी हाउंसिंग फाइनेंस कंपनी के अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने बिना जांच पड़ताल किए ही इतनी बड़ी राशि का लोन स्वीकृत कर दिया है। लेकिन, जिन लोगों के दस्तावेज लगाए गए, उन्हें फ्लैट मिले ही नहीं हैं। जांच में ये भी सामने आया है कि, पीएम आवास योजना के तहत 2 लाख की सब्सिडी का लालच देते हुए संबंधित दस्तावेज लिए गए हैं।
इन 11 लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ केस
इस धोखाधड़ी के शिकार हुए 9 लोगों ने ईओडब्ल्यू को शिकायत की थी। शिकायत पर ईओडब्ल्यू द्वारा की गई जांच में अहम सबूत मिलने पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। इसमें सौरभा शरण, रतन प्रकाश जैन, गुणमाला तारण, अभय प्रकाश जैन, प्रदीप शर्मा, आरके सोहने, सीनियर मैनेजर एलआईसी आशीष नेमा, एरिया मैनेजर अतुल कुमार सिंह समेत 11 आरोपी शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button