राजस्थान

राजस्थान-दौसा में जमीन विवाद में महिलाओं के पथराव में सात पुलिसकर्मी घायल

दौसा.

दौसा जिले के सिकंदरा थाना अंतर्गत रेटा गांव में दो चचेरे भाइयों के आपसी में विवाद में बीच बचाव कराने गई पुलिस पर ही लोगों ने पथराव कर दिया। इस हमले में सात पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने मामले में एक पक्ष की चार महिलाओं समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार रेटा गांव की खारवाल की ढाणी में दो भाइयों के बीच बाउंड्री वॉल को लेकर झगड़े की सूचना पुलिस को मिली थी। पुलिस के पहुंचते ही दूसरे पक्ष के लोग भड़क गए और पुलिस पर पथराव करने लगे इस दौरान सात पुलिसकर्मियों को चोट आई।

उधर, दौसा जिला पुलिस अधीक्षक रंजीता शर्मा के अनुसार दो चचेरे भाइयों के बीच विवाद में बीच बचाव के लिए गई पुलिस को दूसरे पक्ष के लोगों ने देखते ही पहले तो पथराव शुरू कर दिया और बाद में महिलाओं को आगे कर दिया, ताकि वो पुलिस को कार्रवाई करने से रोक सकें। इस बीच पुलिस ने अपना बीच बचाव करने के लिए उन महिलाओं को धक्का-मुक्की करके जैसे तैसे हटाया, जिसका वीडियो भी वायरल हो रहा है। इस मामले पर दौसा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिनेश अग्रवाल ने बताया कि एक पक्ष के लोग पिछले दिनों पानी की टंकी पर इसी मामले को लेकर चढ़कर दबाव बना रहे थे। इसके बाद प्रशासन ने जैसे-तैसे समझा करके उन लोगों को टंकी से नीचे उतारा था। इस जमीन पर निर्माण चल रहा था। दूसरा पक्ष बार-बार उन्हें रोकने का प्रयास कर रहा था। इसी विवाद में बचीबचाव के लिए पुलिस को रेटा गांव के खारवाल की ढाणी में समझाइश करने गई थी।

सिकंदरा थाना अधिकारी महावीर सिंह की माने तो मौके पर दूसरे पक्ष की महिलाएं पुलिस पर दबाव बनाने के लिए पुलिस वालों वालों को पकड़ने लगीं। इसी धक्का-मुक्की का वीडियो बनाकर दूसरे पक्ष ने वायरल किया है। अब इस झगड़े के बीच पुलिस ने भी अपनी तरफ से वीडियो बनाकर मीडिया के सामने जारी किया है। इस सारे प्रकरण में पुलिस ने एक पक्ष की चार महिलाएं समेत सात लोगों की गिरफ्तारी की है। जमीनी विवाद का यह मामला दो चचेरे भाइयों के बीच पिछले 10 साल से लगातार चल रहा है।

Back to top button