राजस्थान

राजस्थान-उदयपुर के वार्ड 17 के उपचुनाव नामांकन के बाद चुनाव निरस्त

उदयपुर.

नगर निगम के वार्ड 17 के लिए होने वाले पार्षद चुनाव निरस्त कर दिए गए हैं। कल दिन में कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों के नामांकन दाखिल कराने के बाद रात को राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी ने चुनाव निरस्त करने का आदेश जारी कर दिया। उल्लेखनीय है कि उदयपुर शहर के विधायक बनने से पूर्व ताराचंद जैन वार्ड 17 से भाजपा के पार्षद थे। जैन 4 वर्ष तक पार्षद पद पर रहे।

नवंबर 2023 में विधायक बनने के बाद जैन ने पार्षद पद से इस्तीफा दे दिया था। सात माह से वार्ड 17 का पार्षद पद रिक्त था। इस बीच लोकसभा चुनाव आ जाने से पार्षद का उपचुनाव नहीं कराया जा सका था इसलिए ही राज्य निर्वाचन अधिकारी ने इस माह में उपचुनाव कराने का कार्यक्रम जारी किया था।

इसलिए हुए चुनाव निरस्त
चुनाव निरस्त होने को लेकर राज्य निर्वाचन अधिकारी के पत्र में हवाला दिया गया है कि राज्य में बनाए गए नए जिलों का परिसीमन शीघ्र करना अपेक्षित है। जिलों के परिसीमन के साथ नगर निगम, नगर पालिका, परिषद के वार्डों का भी परिसीमन किया जाएगा। इसके तहत वार्डों का आकार और संख्या बदली जाएगी, इसी कारण से परिसीमन होने तक उपचुनाव करना संभव नहीं होगा।

शायद ही हों उपचुनाव
उदयपुर शहर कांग्रेस के अध्यक्ष फतहसिंह राठौड़ का कहना है कि शेड्यूल के मुताबिक नवंबर 2024 में नगर निगम उदयपुर के आम चुनाव कराए जाने हैं, जिसमें अब मात्र पांच माह का समय शेष है। ऐसे में अब उपचुनाव स्थगित होने के बाद दोबारा उपचुनाव कराने का समय ही नहीं बचता। इसी कारण माना जा रहा है कि अब शायद ही उपचुनाव होंगे।

Back to top button