मध्य प्रदेश

उद्योग स्थापना और निवेश के लिए आकर्षण का केन्द्र बन कर उभरा है मध्यप्रदेश – सीएम शिवराज सिंह

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट: देर शाम तक जारी रहा उद्योगपतियों और निवेशकों से वन-टू-वन मीटिंग का दौर, मुख्यमंत्री चौहान ने ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में देश-विदेश के औद्योगिक समूहों से की चर्चा

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व की प्रमुख आर्थिक शक्ति के रूप में उभर रहा है। देश में प्रदेश की भौगोलिक स्थिति, उपलब्ध प्राकृतिक संसाधन, बेहतर कानून-व्यवस्था, दक्ष मानव संसाधन, संसाधन की उपलब्धता ईज ऑफ डूईंग बिजनेस के प्रभावी क्रियान्वयन से मध्यप्रदेश उद्योग स्थापना और निवेश के लिए आकर्षण के केन्द्र के रूप में उभरा है। देश ही नहीं जापान, कनाडा, जर्मनी सहित अन्य देशों की बहुराष्ट्रीय कम्पनियाँ भी अपनी इकाइयाँ स्थापित करने के लिए मध्यप्रदेश को सर्वोच्च प्राथमिकता दे रही हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के पहले दिन के दूसरे सत्र में उद्योगपतियों और निवेशकों से ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में वन-टू-वन चर्चा कर रहे थे।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मालद्वीप के डिप्टी मिनिस्टर सादुल्ला अहमद से पर्यटन और दोनों देशों की समान सांस्कृतिक विरासत के संबंध में चर्चा की। कनाडा की कॉउंसिल जनरल सुश्री डाईड्रा केला से कनाडा के उन्नत कोल्ड स्टोरेज सिस्टम, खाद्य प्र-संस्करण तकनीकों और हाईवे प्रबंधन के अनुभवों का लाभ प्रदेश को उपलब्ध कराने पर चर्चा हुई। जेएसडब्ल्यू सीमेंट एवं पेंटस के पार्थ जिंदल ने प्रदेश में आगामी निवेश के संबंध में चर्चा की। हैटिज इंडिया प्रायवेट लिमिटेड के एमडी आंद्रे एकहोल्ट ने मध्यप्रदेश में 500 करोड़ के निवेश की बात कही। कॉस्मॉस ग्रेनाइट एण्ड मार्बल के संस्थापक रोहित गंगवाल ने नेचुरल स्टोन और माइनिंग से संबंधित प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की इच्छा जताई। जापान एक्स-ट्रनल समूह के डायरेक्टर जनरल मात्सुनागा मुनेनोरि से मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में जापान ज़ोन बनाने तथा जापान से प्रदेश में अधिक निवेश के संबंध में चर्चा की।
मुख्यमंत्री श्री चौहान से अमेरिका की दूरसंचार सेवा प्रदाता कम्पनी मेसर्स क्वाडजेन वीटल मेन्युफैक्चरिंग कार्पोरेशन के चेयरमेन तथा कोफाउंडर सी.एस. राव तथा तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी त्री होआंग ने इलेक्ट्रानिक्स विनिर्माण संबंधी परियोजना के विभिन्न बिन्दु पर चर्चा की। चेन्नई के एकॉड ग्रुप के डॉ. संदीप आनंद ने प्रदेश में खेल विश्वविद्यालय स्थापित करने तथा कैंसर पर केन्द्रित अस्पतालों की चेन विकसित करने के प्रस्ताव पर चर्चा की। तेलंगाना के ग्रीनको ग्रुप के अनिल कुमार चलमलासेट्टी तथा नरसिम्हा राव ने नीमच में 7200 करोड़ के निवेश से गांधी सागर डेम के समीप 1440 मेगावॉट ऊर्जा क्षमता का सौर ऊर्जा से जल की पम्पिंग पर आधारित ऊर्जा उत्पादन संयंत्र स्थापित करने तथा नीमच की एयर स्ट्रिप के उन्नयन के बारे में चर्चा की। एक्सिस एनर्जी तेलंगाना के रवि कुमार रेड्डी ने ग्रीन हाइड्रोजन और ऊर्जा आवश्यकताओं की पूर्ति तथा नवकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं के संबंध में प्रस्ताव रखा।
मुख्यमंत्री श्री चौहान से विटेरा इंडिया प्रायवेट लिमिटेड के मानिक गुप्ता ने सागर जिले में उच्च तकनीक पर आधारित दाल मिल संयंत्र स्थापित करने संबंधी प्रस्ताव पर चर्चा की। हाइडलबर्ग सीमेंट इंडिया के जमशेद नवल कपूर ने दमोह में 1000 करोड़ के निवेश से क्लिंकर प्लांट स्थापित करने संबंधी बातचीत की। आईनॉक्स एयर प्रोडेक्ट्स के सिद्धार्थ जैन ने नर्मदापुरम जिले में चिकित्सकीय ऑक्सीजन प्लांट के लिए राज्य शासन से सहयोग तथा प्रदेश में फिल्म थियेटरों की स्थापना पर चर्चा की। थिंक गैस डिस्ट्रीब्यूशन प्रायवेट लिमिटेड के अमित सेन गुप्ता ने प्राकृतिक गैस के उपयोग के संबंध में नीतिगत सुधार और प्रदेश में ग्रीन एनर्जी पार्क विकसित करने के बारे में चर्चा की। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन के सीएमडी व्ही.आर. के गुप्ता ने सागर जिले की बीना तहसील में पेट्रो-रसायन परियोजना के संबंध में चर्चा की। चर्चा के दौरान औद्योगिक नीति तथा निवेश प्रोत्साहन मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव तथा प्रमुख सचिव मनीष सिंह उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button