छत्तीसगढ़बिलासपुर

टिफिन के पैसे देने में की देरी तो संचालक और उसके दोस्तों ने दबंगई दिखाई, मजदूर को बंधक बनाकर जमकर पीटा, जुर्म दर्ज …

बिलासपुर । मोपका निवासी यशवंतदास मानिकपुरी (30) रोजी-मजदूरी करता है। वह अपने एक दोस्त महेंद्र सिंह के साथ रहकर काम की तलाश में है। महेंद्र सिंह अपने लिए मोपका निवासी प्रवीण यादव से टिफिन मंगवाता था, जिसे देख यशवंतदास ने भी टिफिन लेना शुरू कर दिया। लेकिन, एक माह तक टिफिन लेने के बाद वह पैसे नहीं दे पाया। बीते 15 जनवरी को वह हिसाब करने के लिए टिफिन सेंटर पहुंचा। तब उसे देखकर प्रदीप यादव गुस्से में आ गया।

बिलासपुर में मजदूर को बंधक बनाकर पिटाई करने का मामला सामने आया है। पीडित के हाथ-पैर बांध कर पाइप और डंडे से उसकी जमकर पिटाई की गई है। मंथली टिफिन के पैसे नहीं देने पर टिफिन सेंटर संचालक और उसके दोस्तों ने मिलकर मजदूर को बेरहमी से पीटा है। पुलिस ने घायल मजदूर की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

यशवंत का एक माह टिफिन लेने का हिसाब 2 हजार 350 रुपए हुआ। लेकिन, मजदूरी मिलने में देरी होने पर यशवंतदास पैसे नहीं दे पाया था। पैसे मिलने पर वह भुगतान करने पहुंचा था। लेकिन, देरी से पैसे देने के नाम पर विवाद करते हुए प्रदीप उसे गाली देने लगा। फिर अपने दोस्तों को बुलाकर उसका हाथ-पैर बंधवा दिया और पाइप-डंडे से उसकी जमकर पिटाई कर दी। उनके चंगुल से छूटने के बाद घायल यशवंत ने पुलिस से शिकायत कर दी, जिस पर पुलिस ने हमलावरों पर केस दर्ज कर लिया है।

Related Articles

Back to top button