देश

बीजेपी नेता विदेश से ट्रंप और पुतिन को भी बिहार में बुला लें : तेजस्वी यादव

पटना.

बिहार में बीजेपी नेताओं की लोकसभा चुनाव 2024 के तहत दनादन रैलियों पर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने तंज कसा है। तेजस्वी ने बीजेपी से कहा कि वे विदेश से डोनाल्ड ट्रंप (अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति) और व्लादिमीर पुतिन (रूसी राष्ट्रपति) को भी बुला लें। बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को बिहार में अलग-अलग लोकसभा सीटों पर चुनावी जनसभाएं करने जा रहे हैं।

तेजस्वी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरक्षण वाले बयान पर भी पलटवार किया और कहा कि इन्होंने जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिया और अब उन्हीं के विचारों का विरोध कर रहे हैं। तेजस्वी यादव ने बुधवार को पटना में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि पीएम मोदी को जानकारी का अभाव है। जब कर्पूरी ठाकुर पहली बार मुख्यमंत्री बने थे, तब उन्होंने सभी धर्मों में जितनी भी पिछड़ी जातियां थीं, उनको आरक्षण दिया था। मंडल कमीशन में भी 85 पिछड़ी जातियों को आरक्षण देने की सिफारीश की गई थी। अब पीएम मोदी कर्पूरी ठाकुर की ही नीतियों का विरोध कर रहे हैं। बीजेपी नेताओं द्वारा लालू परिवार को जमानत पर छूटे होने की बात कहने पर भी तेजस्वी ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि हम जमानत पर छूटे हैं तो क्या दिक्कत है। उन लोगों ने ही केस कराया और फंयासा है। अब कोर्ट ने जमानत दी है। तेजस्वी यादव ने लोजपा रामविलास के मुखिया चिराग पासवान पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पासवान कहते थे संपन्न दलित को आरक्षण छोड़ देना चाहिए। अब वे क्यों नहीं इसे छोड़ रहे हैं।

तेजस्वी ने आगे कहा कि बीजेपी के नेता बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के संविधान को खत्म करने की बात कर रहे हैं। मगर इस मुद्दे पर चिराग पासवान का मुंह नहीं खुल रहा है। उल्टे वे बीजेपी के साथ हैं। उन्होंने सत्ताधारी दल को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि लोकतंत्र पर हमला बोला जा रहा है। चंडीगढ़ मेयर चुनाव में बहुत बड़ी बेइमानी हुई थी, सुप्रीम कोर्ट को उसे रद्द करना पड़ा। हाल ही में इंदौर में कांग्रेस प्रत्याशी पर चार दिन पहले केस करके डरा दिया और फिर नामांकन वापस करा लिया गया। सूरत में तो विरोधी कैंडिडेट को खरीद लिया गया। लोकतंत्र के लिए यह सबसे खतरनाक बार है। ये लोग अपना विरोधी जनता को चुनने का अधिकार ही नहीं दे रहे हैं।

Back to top button