मध्य प्रदेश

भाजपा ने डाॅ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के जन्मजयंती मनाया

डिण्डौरी
भारतीय जनता पार्टी जिला कार्यालय डिण्डौरी मे राष्ट्रीय एकता एवं अखण्डता के पर्याय महान शिक्षाविद् प्रखर राष्ट्रवादी और भारतीय जनसंघ के संस्थापक डाॅ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के जन्मजयंती के अवसर पर उनके तेलीय चित्र पर तिलक वंदन कर सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्वासुमन अर्पित की। वरिष्ठ नेता अशोक अवधिया ने कहा कि भारत एवं कश्मीर को मिलाने के लिए वे लगातार प्रयासरत रहे तथा उनका कहना था कश्मीर मे परमिट नीति व दो विधान, दो प्रधान, एवं दो निशान जैसे देशविरोधी नीतियो का लगातार विरोध करते रहे। 23 जून 1953 को उनकी रहस्यमयी परिस्थितियों मे मृत्यु हो गई थी। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष अवध राज बिलैया ने कहा कि डाॅ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने राष्ट्रवाद की संस्कृति और अस्मिता के भाव को लेकर अपना कार्य प्रांरभ किया। उनके कृतित्व व व्यक्तित्व के कारण ही आज भाजपा 20 करोड़ सदस्य की विश्व की सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी है।

आज भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता हर क्षेत्र मे नेतृत्व कर रहे है उसमे कहीं न कहीं डाॅ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी व पं. दीनदयाल जी की देन है। देश मे दो विधान,दो निशान,दो प्रधान नही चलेगा का नारा लगाकर डाॅ. मुखर्जी ने इन नारो के साथ जम्मू कश्मीर मे परमिट के नियम को नकारते हुए आंदोलन किया।   मंच का संचालन मंडल महामंत्री भागीरथ व आभार रीतेश जैन ने व्यक्त ने किया। कार्यक्रम के पश्चात् प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आव्हान पर एक पेड़ माॅ के नाम कार्यक्रम अंतर्गत माॅ शारदा टेकरी वार्ड नं. 01 में सभी पदाधिकारियों ने वृक्षारोपड़ किया। उक्त कार्यक्रम के दौरान जिला महामंत्री जयसिंह मरावी, सुशीला मार्को, नगर परिषद अध्यक्ष सुनीता सारस,वरिष्ठ नेता वीरेंद्र बिहारी शुक्ला, मंडल अध्यक्ष राजेश्वर साहू, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष नरवदिया मरकाम, जिला सह मीडिया प्रभारी आशीष वैश्य, जिला सह संयोजक सोशल मीडिया अविनाश सिंह सैनी, राजेन्द्रपाल कुशराम, कुंवरिया मरावी, पार्षद रजनीश राय, रुपाली जैन, शत्रुघन पाराशर, गोवर्धन सरैया, हरिहर पाराशर, भीम अवधिया, बलराम राठौर, प्रशांत मिश्रा, पवन ठाकुर, रजनी श्रीवास सहित भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्तागण मौजूद रहें।

Back to top button