दिल्ली बुलेटिन

कांग्रेस की सत्तालोलुपता और तानाशाही मानसिकता का जीवंत उदहारण है आपातकाल: संजय जायसवाल

पटना। आपातकाल को कांग्रेस के तानाशाही रवैए का जीवंत स्वरूप बताते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने आज कहा कि 25 जून 1975 की तारीख को भारतीय लोकतंत्र के काले अध्याय के तौर पर हमेशा याद रखा जाएगा. यह वही तारिख है जिस दिन सत्ता के लिए कांग्रेस …

Read More »

डॉ दीपिका उपाध्याय 26 जून से आगरा में करेंगी श्रीमद्भागवत पर कथा …

आगरा। देश की जानीमानी कथावाचक डॉ दीपिका उपाध्याय 26 जून से गोपाल धाम आगरा में श्रीमद्भागवत पर कथा करेंगी। कथा का फेसबुक पर सीधा प्रसारण किया जाएगा। डॉ दीपिका उपाध्याय कथावाचन के अगले क्रम में श्रीगोपालजी धाम में 24 जून से कथा करेंगी। श्रीमद्भागवत पर यह कथा 2 जुलाई तक …

Read More »

यही जीवन है …

हर रोज जीने के लिए मरना पड़ता है फिर भी खुश होने का ढोंग करना पड़ता है   कितनी खामोश कितनी वीरान है मेरी रातें फिर भी हर रात मुझको सजना संवरना पड़ता है   कितने दर्दों का समन्दर है मेरा ये दिल फिर भी हर रोज इक नये दर्द …

Read More »

एक हैं अमरकंटक में संत नर्मदानंद महराज …

नर्मदा परिक्रमा भाग- 37 अक्षय नामदेव। माई की बगिया में विधि विधान से पूजा अर्चना करने के बाद हम मां नर्मदा कुंड अमरकंटक के लिए रवाना हुए। अमरकंटक नर्मदा कुंड से 100 मीटर पहले हम गीता स्वाध्याय मंदिर अमरकंटक के संचालक महात्मा स्वामी नर्मदानंद गिरी से आशीर्वाद प्राप्त करने के …

Read More »

अरुण साव ने कहा- आपातकाल की बुनियाद में है कांग्रेसी …

मुंगेली । बीसवीं सदी में भारत को आजादी की लड़ाई दो बार लड़नी पड़ी। पहली तो स्वाभाविक रूप से अंग्रेजों से तो दूसरी लड़ाई राष्ट्रवादियों को कांग्रेस से ही लड़नी पड़ी। 46 वर्ष पूर्व 25 जून 1975 को कांग्रेस सरकार द्वारा आपातकाल लागू करने का वो कालादिवस भारतवासी कभी नहीं …

Read More »

मुस्कुराना हम भूल ही गए …

  मुस्कुराना हम भूल ही गए, तेरे जाने के बाद……, लिखे गीत कितने मगर,ह गा न सके तेरे जाने के बाद, यादें बस बन गई जिंदगी मेरी, टिमटिमाती दीए सी, बुझती-जलती हो गई है जिंदगानी मेरी, तन्हाई ही है अब कहानी मेरी, सपनों में तेरा आना लगे, चांदनी में हुई …

Read More »
error: Content is protected !!