मध्य प्रदेश

जिला पंचायत अध्यक्षों का बढ़ेगा मानदेय, राष्ट्रीय पर्व पर करेंगे ध्वजारोहण

पंचायत मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया ने दी सहमति, आज होगी मुख्यमंत्री से मुलाकात

 

भोपाल। प्रदेश के जिला पंचायत अध्यक्षों एवं उपाध्यक्षों का एक प्रतिनिधि मण्डल जिला पंचायत अध्यक्ष संघ के अध्यक्ष एवं सागर जिला पंचायत अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत के नेतृत्व में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया से मिलकर अपनी 11 सूत्रीय मांगों को उनके समक्ष रखा। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अपर मुख्य सचिव मलय श्रीवास्तव सहित विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। मांगो पर सहमति जताते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के कार्यकाल में कोई भी दुखी नहीं रहेगा। प्रदेश के जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष की जो भी मांगे हैं, उनमें वित्त विभाग व सामान्य प्रशासन विभाग से संबंधित मांगे एक अनुमोदन पत्र के साथ मुख्यमंत्री को भेज दी गई हैं।

मंत्री सिसौदिया ने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्षों की सभी मांगे मुख्यमंत्री के संज्ञान में है।  मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में मेरे साथ राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत सहित अन्य मंत्रियों ने समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री को अवगत कराया है। जिला पंचायत अध्यक्षों की सभी मांगों का परीक्षण कराकर मैंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। बैठक में पंचायत मंत्री ने जिला पंचायत अध्यक्षों के मानदेय और वाहन भत्ते में वृद्धि की मांग को स्वीकार करते हुए राष्ट्रीय पर्व के समय जिला पंचायत अध्यक्षों को भी ध्वाजारोहण करने का अवसर प्रदान करने की स्वीकृति दी है। साथ ही जिला पंचायत से स्वीकृत होने वाले मनरेगा एवं 15 वें वित्त आयोग के कार्यों को छोडकर शेष सभी कार्यों की स्वीकृति जिला पंचायत अध्यक्ष से जरूरी होगी। पंचायत ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द सिंह सिसोदिया के नेतृत्व में जिला पंचायत अध्यक्षों एवं उपाध्यक्षों का एक प्रतिनिधि मण्डल बुधवार को प्रात 8 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुख्यमंत्री निवास पर उनसे मुलाकात कर मांगों के संबंध में चर्चा करेगा। इस अवसर पर सागर जिला पंचायत के अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत एवं देवेन्द्र सिंह उपाध्यक्ष जिला पंचायत सागर, अर्चना सिंह उपाध्यक्ष जिला पंचायत सिंगरौली, सागर जिला भाजपा मंत्री देवेन्द्र फुसकेले के अतिरिक्त विदिशा, छतरपुर, इंदौर, आगर-मालवा, बुरहानपुर, रतलाम, देवास, उमरिया, धार, गुना, शाजापुर, मण्डला, अशोकनगर, सीधी, नर्मदापुरम, मंदसौर, नीमच, पन्ना, राजगढ़, सीहोर, उज्जैन, रीवा, भोपाल, निवाड़ी और मुरैना के जिला पंचायत एवं उपाध्यक्ष उपस्थित थे।


Back to top button