Breaking News
.

सीएम भूपेश खेमें के 15 विधायकों के अचानक दिल्ली पहुंचने से प्रदेश सहित केंद्र की सियासत गरमाई …

रायपुर । पंजाब में घमासान शांत भी नहीं हो पाई, इस बीच अब छत्तीसगढ़ में फिर हलचल तेज गई है। दिल्ली दौरे में गए विधायकों में बृहस्पत सिंह, विकास उपाध्याय, गुलाब कमरो, पारसनाथ रजवाड़े, विनय जायसवाल, प्रकाश नायक, गुरुदयाल बंजारे, यूडी मींज, मोहित केरकेट्टा, चंद्र देव राय, द्वारिकाधीश यादव, पुरुषोत्तम कुमार, रामकुमार यादव साथ अन्य विधयक भी शामिल हैं। गुरुवार को और भी विधायक दिल्ली पहुंचने की खबर आ रही है। दिल्ली पहुँचने वाले सभी 15 विधायक मुख्यमंत्री भूपेश बघेल खेमे के माने जाते हैं।

आज शाम कांग्रेस विधायक बृहस्पत सिंह के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ के 15 कांग्रेस विधायक दिल्ली पहुंच गए हैं। विधायक, छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया से मुलाकात कर प्रदेश की राजनीतिक स्थिति की जानकारी देंगे। कांग्रेसी विधायक बृहस्पति सिंह ने एयर पोर्ट पर मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि विधायक राहुल गांधी को प्रदेश दौरे के लिए न्योता देने सभी विधायक जा रहे हैं। वहीँ उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अच्छा काम कर रहे हैं, उनके नेतृत्व में ही आगे सरकार चलेगी। हाईकमान का आशीर्वाद उनके साथ है। उन्होंने कहा कि आलाकमान से वक्त मिला तो प्रभारी के साथ उनसे भी मिलकर सभी बातें खुलकर रखेंगे।

वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि हम सब जानते हैं कि छत्तीसगढ़ में क्या राजनीति चल रही है यह छुपाने की कोई बात नहीं है। विधायकों के दिल्ली दौरे को लेकर उन्होंने कहा कि हो सकता है विधायक अपनी बात रखने दिल्ली गए हैं। सभी विधायक अपनी बात रखने राष्ट्रीय नेतृत्व के पास जा सकता है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि राहुल गांधी को बुलाने का विशेषाधिकार मुख्यमंत्री को ही है, मुख्यमंत्री के उपर जाकर कोई आमंत्रण दें तो यह ओवरटेक ही माना जाएगा।

 

error: Content is protected !!