Breaking News
.

आर्यन खान के खिलाफ सबसे बड़ा सबूत है वॉट्सऐप चैट, NCB का दावा कितना दमदार, जानिए …

नई दिल्ली । क्या आरोपी के खिलाफ वॉट्सऐप चैट का इस्तेमाल सबूत के तौर पर हो सकता है? बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में यह बताया गया था कि वॉट्सऐप चैट का इस्तेमाल एक आरोपी को कॉल कर सवाल पूछने के लिए हो सकता है। लेकिन इसका इस्तेमाल केस में सबूत के तौर पर नहीं हो सकता है। यह तब हुआ था जब रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के लिए कॉल किया गया था।

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में फंसे शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने कहा है कि उसके पास आर्यन खान के खिलाफ काफी ठोस सबूत हैं। एनसीबी ने कहा है कि उसके पास आर्यन खान के मोबाइल के वॉट्सऐप चैट और फोटो मौजूद हैं। आर्यन खान के वॉट्सऐप चैट के आधार पर एनसीबी ने कहा है कि आर्यन ने कॉन्ट्राबैंड्स लेने के लिए विदेशियों से संपर्क किया था। हालांकि, आर्यन खान के वकील का दावा है कि यह चैट सिर्फ फुटबॉल के बारे में था और कुछ नहीं।

इससे पहले बुधवार को क्रूज़ ड्रग्स मामले में गिरफ्तार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेंट, मुनमुन धमेचा और अन्य की जमानत याचिका पर लंबी बहस हुई थी। NCB की तरफ से पेश एएसजी अनिल सिंह ने व्हाट्सएप चैट की कॉपी कोर्ट को सौंपी कोर्ट को सौंपी थी। इसकी कॉपी अदालत को सौंपते हुए अनिल सिंह ने कहा था कि इसे देखा जाए तो समझ आता है कि इस पूरे मामले की जांच की जानी चाहिए और अगर किसी को छोड़ा गया तो मामले की जांच में इसका असर पड़ सकता है।

अनिल सिंह ने कोर्ट को कहा था कि मैं आपको व्हाट्सएप्प चैट की कॉपी दे रहा हूं ताकि आपको समझ में आए की यह मामला कितना गंभीर है। अदालत में मैं इसे पढ़ नहीं सकता, मैं आपको यह दे रहा हूं। इसकी पूरी एक फ़ाइल है, जिसमें कई सारे चैट हैं, उसमें से कुछ ज़रूरी चैट को हमने मार्क किया है।

अनिल सिंह ने कहा था कि चैट से यह भी समझ आता है कि कॉण्ट्रा बैंड अधिक मात्रा में लेने की बात हो रही है। विदेशी नागरिक से इसकी बात की जा रही है। मुझे इन ड्रग्स की जानकारी नहीं है लेकिन मेरे डिपार्टमेंट ने बताया कि यह हार्ड ड्रग्स हैं। इसलिए अगर कोई आपके घर पर आता है और आप उसके दोस्त हैं, आप कह रहे हैं कि मेरे पास ड्रग्स नहीं मिला, मेरे दोस्त से मिला, वो भी बहुत कम आप इससे पल्ला नहीं झाड़ सकते।

error: Content is protected !!