Breaking News
.

दिल्ली दरबार : पंजाब में कैप्टन के बिना कांग्रेस का क्या होगा ….

नई दिल्ली (पंकज यादव) । पंजाब में कांग्रेस ने जैसे ही नए प्रदेश अध्यक्ष के नाम की घोषणा की उसी समय कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता का ट्वीट आया कि पंजाब से कांग्रेस खत्म। यह ट्वीट कई तरह की बातों की ओर इशारा कर रहा है। क्या पंजाब में कांग्रेस के पास प्रदेश अध्यक्ष के रूप में कोई दूसरा नाम नहीं था। या फिर नवजोत सिंह सिद्दू कांग्रेस की मजबूरी थे।

दोनों सवालों का एक ही जवाब है कि कांग्रेस ने अपने ही पैर पर कुल्हाड़ी मारी है। सिद्दू की पार्टी के प्रति क्या प्रतिबद्धता है यह विधानसभा चुनाव के बाद पता चल जाएगा। दूसरी बात यह है कि सिद्दू कभी भाजपा का गुड़गान करते रहे और बीच में आम आदमी पार्टी का। कांग्रेस के प्रति उनकी वफादारी केवल चुनाव तक है अगर कांग्रेस सत्ता में नहीं आती है तो सिद्दू भी अलग राह पकड़ लेंगे। दिल्ली दरबार मे इस बात की चर्चा जोरों पर है कि कांग्रेस के जनाधार वाले राज्यों में मध्यप्रदेश, राजस्थान और पंजाब का क्या हाल हुआ किसी से छूपा नहीं है। अब चर्चा इस बात की है कहीं आने वाले दिनों में छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस में कोई बड़ी फूट न हो जाये।

error: Content is protected !!