Breaking News
.

संत गुरू घासीदास के बताये सदमार्ग पर चलकर हमें आगे बढ़ने की जरूरत – डॉ डहरिया

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के नगरीय प्रशासन, विकास एवं श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने कहा है कि हमें बाबा गुरू घासीदास के बताये मार्ग पर चलकर आगे बढ़ने की जरूरत है बाबा प्रेम एवं सद्भावना के प्रतीक थे। उन्होंने सत्य अहिंसा और मानव मानव  में समानता का संदेश दिया। इन संदेशों को हम सबको अपने जीवन में उतारना चाहिए।

संत गुरू घासीदास के बताये मार्ग पर चलकर ही समाज में आपसी भाई-चारा, सामाजिक समरसता, प्रेम और सद्भावना को और मजबूत किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हम गुरू बाबा के आर्दशों पर चलकर समाज और प्रदेश में सार्वजनिक विकास के लिए कार्य कर रहे हैं। यह विचार डॉ डहरिया ने रायपुर जिले के आरंग विधानसभा क्षेत्र के ग्राम कोरासी (भैसा) एवं परासपानी (धोमभट्टी) में परमपूज्य गुरू घासीदास जयंती समारोह के कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रकट किए। इस अवसर पर उन्होंने  क्षेत्र के विभिन्न विकास कार्यों को कराने की घोषणा भी की।

संत गुरू घासीदास जयंती कार्यक्रम में गुरू वंदना और चौका आरती प्रस्तुत की तथा पालो चढ़ाया गया। कार्यक्रम में पंथी नृत्य और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम की आकर्षक प्रस्तुति दी गई। मंत्री डॉ. डहरिया का ग्रामीणजनों ने आत्मीय स्वागत किया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने ग्राम कोरासी में सतनामी समाज के सामुदायिक भवन के लिए अहाता निर्माण के लिए पांच लाख रूपये और किचन शेड के लिए दो लाख रूपए प्रदान करने की घोषणा की।

डॉ. डहरिया ने परासवानी (धोममट्टी) के शाला में अतिरिक्त कक्ष निर्माण कराने 4 लाख 71 हजार रूपये प्रदान करने तथा स्थानीय पंथी नृत्य दलों को 15-15 हजार रूपए स्वेच्छानुदान मद से प्रदान करने की घोषणा की। डॉ. डहरिया ने क्रिकेट टीम को एक हजार पांच सौ रूपए प्रदान करने की घोषणा भी की।

कार्यक्रम के दौरान जनपद अध्यक्ष आरंग खिलेश्वर देवांगन, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती दुर्गा राय, श्रीमती हेमलता डुमेन्द्र साहू, आजू राम बंशे, नंदू साहू, मोहन साहू, कोमल साहू और बबलू भाटिया सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि, सरपंच एवं पंचायतों के प्रतिनिधि एवं नागरिक उपस्थित थे। 

error: Content is protected !!