Breaking News
.

फैसला:  ओबीसी आरक्षण के बाद अब सामान्य वर्ग को खुश करने की कोशिश, शिव कुमार को बनाया सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग का अध्यक्ष…

भोपाल. मध्यप्रदेश में सामान्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) को 27% आरक्षण के बाद शिवराज सरकार अब जातिगत संतुलन साधने में लगी है. इसके लिए सरकार ने सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग को पुन: एक्टिव करते हुए इसके अध्यक्ष पद पर अपर कास्ट वर्ग के शिव कुमार चौबे को नियुक्त किया है. श्री चौबे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बेहद करीबी माने जाते हैं. मध्य प्रदेश में सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग का गठन 2008 में तत्कालीन बीजेपी सरकार ने ही किया था और बाबूलाल जैन को इसका अध्यक्ष बनाया गया था. उस समय आयोग ने सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण की कई सिफारिशें भी कीं थीं. लेकिन उन पर उतना अमल नहीं हो पाया. बाद में 2018 में कमलनाथ सरकार के दौरान आयोग को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया.

बीते कुछ दिन से प्रदेश में ओबीसी वर्ग को 14% से बढ़ाकर 27% आरक्षण देने का मुद्दा गरमाया हुआ है. सरकार ओबीसी को 27% आरक्षण देने के पक्ष में खड़ी है. उसने पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग भी बनाया. ओबीसी के प्रति सरकार की इस संजीदगी से सामान्य वर्ग में नाराजगी बढ़ने के पूरे आसार हैं. यही वजह है कि सरकार ने एक बार फिर सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग को एक्टिव कर दिया है.

आरक्षण के बीच सामान्य वर्ग के हितों का ध्यान रखना भी जरूरी है. जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन्हें संबल देने के लिए तेजी से काम किया जाएगा. वे सामान्य वर्ग के कल्याण के लिए काम करेंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने सिर्फ वोट की राजनीति की और उसने सामान्य निर्धन वर्ग कल्याण आयोग को दरकिनार किया.

error: Content is protected !!