Breaking News
.

यूपी भाजपाई व सपाई आपस में भिड़े, इटावा में एसपी को मारा थप्पड़ ही थप्पड़, हाथरस में पथराव-फायरिंग के बाद लाठीचार्ज …

नई दिल्ली। यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान कई जगह बवाल हुआ है। बाराबंकी, रायबरेली, सुलतानपुर, लखीमपुर खीरी समेत कई जिलों में मतदान के दौरान भाजपा और सपा कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। इटावा में मतदान को लेकर हो रहे उपद्रव के बीच पहुंचे एसपी सिटी प्रशांत कुमार को किसी ने थप्पड़ मार दिया। इससे गुस्सायी पुलिस ने कई राउंड हवाई फायरिंग की और आंसू गैस के गोले छोड़े। हाथरस में भी भाजपाई व सपाई कार्यकर्ताओं की झड़प के बाद पथराव और फायरिंग शुरू हो गई।

स्थिति को संभालने के लिए पुलिस को यहां भी लाठीचार्ज करना पड़ा। बवाल के बाद सुलतानपुर में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम कर दी है। वहीं बाराबंकी में दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए। पुलिस से भी नोकझोंक हुई है। लखीमपुर खीरी में भी बीडीसी मतदाता के वोट को लेकर पुलिस और भाजपा समर्थक भिड़ गए। मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात की गई है। मतदान केंद्रों पर पीएसी ने मोर्चा संभाला है। चुनाव में कुल 145 कंपनी पीएसी लगाई गई है। मतदान के दौरान हिंसा की आशंका को देखते हुए संवदेनशील जिलों में विशेष सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं। बाराबंकी के देवा में समय से पहले ही पूरा वोट पड़ा।

ब्लॉक प्रमुख नामांकन से शुरू हुआ बवाल अब तक थमा नहीं है। नामांकन के बाद मतदान के दिन भी यूपी के कई जिलों में जमकर बवाल हुआ। लखीमपुर खीरी जिले के नकहा ब्लॉक में एक वोट को लेकर बवाल खासा बवाल हुआ। इस दौरान पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ गया। यहां बीडीसी मतदाता के वोट को लेकर भाजपा समर्थक और पुलिस आपस में भिड़ गए। पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को गेट से भगाया तो सभी हाईवे पर पहुंच गए और दोपहर करीब डेढ़ बजे जाम लगाने की कोशिश करने लगे। इससे पहले ब्लॉक प्रमुख नामांकन के दिन यहां हुई महिला से बदसलूकी का मामला अभी तक गर्माया हुआ है। इसको लेकर सीएम योगी ने कार्रवाई करते हुए सीओ इंस्पेक्टर समेत छह पुलिस कर्मियों को सस्पेंड भी कर चुके हें।

वहीं बाराबंकी में त्रिवेदीगंज ब्लॉक में भाजपा और भाजपा के ही बागी प्रत्याशी गुट में मारपीट और पथराव हुआ। पुलिस को यहां भी लाठियां  फटकारनी पड़ीं। बवाल को देखते हुए कुछ देर के लिए लखनऊ-सुल्तानपुर हाईवे पर पुलिस ने यातायात बंद करा दिया। आम्बेडकरनगर जिले के जलालपुर में विधायक सुभाष राय व पुलिस के बीच विवाद और धक्कामुक्की हुई। विवाद की सूचना पर भाजपा नेता बीडीसी सदस्यों को लेकर मतदान केंद्र पहुंचे। इसके बाद सुभाष राय भी अपने लोगो को लेकर जाने का प्रयास करने लगे, लेकिन प्रशासन ने उन्हें अंदर जाने से रोक दिया।

इटावा जिले के बढ़पुरा ब्लाक प्रमुख के चुनाव में मतदान को लेकर हो रहे उपद्रव के बीच पहुंचे एसपी सिटी प्रशांत कुमार को कार्यकर्ताओं ने थप्पड़ ही थप्पड़ बरसाए। इससे गुस्सायी पुलिस ने कई राउंड हवाई फायरिंग की और आंसू गैस के गोले छोड़े। इस बीच पहुंचे भाजपा जिलाध्यक्ष व विधायक ने पुलिस पर भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठियां चलाने के साथ ही जमकर लात- घूसें मारने का आरोप लगाया जबकि एसपी सिटी ने खुद को थप्पड़ मारने का आरोप लगाया। बवाल के चलते एक घंटे तक मतदान भी प्रभावित रहा।

ब्लॉक प्रमुख चुनाव के मतदान में सुबह से ही कई जिलों में पथराव और फायरिंग की घटनाएं सामने आई हैं। हाथरस में भी पुलिस के सामने लोगों ने पथराव और फायरिंग की। सिकंदराराऊ ब्लॉक में शाम चार बजे तक मतदान खत्म हो चुका था। इसके बाद मतगणना जारी हुई। सपा प्रत्याशी सुदामा देवी यादव और भाजपा प्रत्याशी अजय प्रताप सिंह दोनों को 39-39 वोट मिले। दोनों को बराबर वोट मिलने के बाद प्रत्याशी की हार-जीत का फैसला करने के लिए प्रशासन ने लॉटरी की तैयारी शुरू कर दी थी। इसी दौरान कुछ लोगों ने पथराव और फायरिंग शुरू कर दी। बवाल को देखते हुए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। हाथरस में बवाल की सूचना पर डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंचे और स्थिति को संभालने की कोशिश में लगे रहे।

error: Content is protected !!