Breaking News
.

मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के तहत कुपोषित बच्चे हो रहे सुपोषित …

जशपुरनगर । जशपुर जिले में मुख्यमंत्री सुपोषण योजना के तहत् हितग्राहियों को लाभांवित किया जा रहा है। विकासखण्ड दुलदुला के परियोजना दुलदुला-2 अंतर्गत् सेक्टर कस्तुरा के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों के माध्यम से छत्तीसगढ़ शासन की योजनाओं को हितग्राहियों तक पहुंचाया जा रहा है। साथ ही कार्यकर्त्ताओं तथा पर्यवेक्षक द्वारा हितग्राहियों के घर-घर गृहभेंट कर स्वच्छता, पोषण तथा अन्य आवश्यक समझाइश दी जा रही है। ताकि कुपोषण का प्रतिशत कम किया जा सके।

ग्राम गीधासांड़ में शिशुवती माता श्रीमती विमला टोप्पो के बच्चे साहिल टोप्पो का जन्म 19 अगस्त 2021 को हुआ था। जन्म के समय साहिल का वजन मात्र 1 किलो 700 ग्राम अति कुपोषित श्रेणी का था। आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता श्रीमती मुक्ति खलखो द्वारा लगातार गृह भेंट के माध्यम से बच्चे के माता-पिता को पोषण, स्वच्छता, टीकाकरण संबंधी आवश्यक समझाइश दी गई और नियमित सूखा राशन देकर उसके विभिन्न व्यंजन बनाकर खाने के लिए माता को समझाइश दिया गया। श्रीमती विमला टोप्पो को अपने भोजन में पपीता, हरी साग, सब्जी, टमाटर, चुकन्दर आदि खाने की सलाह दी गई। जिससे बच्चे और उसके माता को पर्याप्त मात्रा पौष्टिक आहार मिल सके।

 पर्यवेक्षक श्रीमती नम्रता अग्रवाल द्वारा भी गृह भेंट द्वारा कंगारू मदर केयर का वीडियों दिखाकर उसके फायदे के बारे में बताया गया। माता को भी बच्चे को त्वचा से लगाकर रखने की सलाह दी गई। साथ ही बच्चे को ज्यादा से ज्यादा बार और सही तरीके से स्तनपान कराने की सलाह दी गई। बच्चे को अंबिकापुर हॉस्पिटल में ईलाज कराया गया और नियमित देखभाल किया गया तथा माता के लगातार पौष्टिक आहार लेने के कारण आज बच्चे का वजन 6 किलो 200 ग्राम है और बच्चा बिल्कुल स्वस्थ्य है। बच्चे के माता-पिता काफी खुश हैं।

error: Content is protected !!