Breaking News
.

Tokyo Olympics : हॉकी में भारतीय शेरों ने रचा इतिहास …

नई दिल्ली । भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलंपिक के ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में जर्मनी को 5-4 से हराकर 41 साल बाद हॉकी में ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है। रेसलिंग में रवि दहिया अब से कुछ ही देर में पुरुषों के फ्रीस्टाइल 57 किग्रा फाइनल में उतरेंगे।

अगर रवि जीतते हैं तो उन्हें गोल्ड मिलेगा और अगर हारते हैं तो सिल्वर मेडल। वह रूस ओलंपिक समिति के जावुर युगुऐव के खिलाफ मैट पर होंगे। उनके अलावा दीपक पूनिया भी अपने ब्रॉन्ज मेडल मैच में उतरेंगे।

महिला वर्ग में विनेश फोगाट को फ्रीस्टाइल 53 किग्रा वर्ग में बेलारूस की वानेसा कालादजिन्सकाया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। विनेश के पास अब भी मेडल जीतने का मौका है।

बेलारूस की पहलवान वानेसा अगर फाइनल में पहुंचती हैं तो विनेश को रेपेचेज में खेलने का मौका मिलेगा। अंशु मलिक भी फ्रीस्टाइल 57 किग्रा वर्ग का अपना ब्रॉन्ज मेडल मैच हार गई हैं।

error: Content is protected !!